Saturday, 18 August, 2018

Opinion

News on Gandhi

क्या भारत को फिर नसीब होगा एक उदारवादी जन-जन का नेता?

आज कांग्रेस वैसी ही लग रही है जैसी वह 1915 में थी। 1915 में गांधी द्वारा कांग्रेस बनाई और बदली गयी थी
news on PM

मोदी नहीं तो कौन? जानिए इस सवाल पर क्या प्रतिक्रिया देते हैं मोदी के...

2019 में अगर मोदी नहीं तो फिर कौन? अधिकांश सामाजिक बैठकों का यह एक ऐसा अहम सवाल है जिसके कई जवाब हैं।
Ninan Column illustration

आईएमएफ की रिपोर्ट पढ़ कर मोदी सरकार को अब खिल उठना चाहिए

नोटबंदी और कृषि उत्पादों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य की वजह से वित्त का महत्व बढ़ जाता है, 7.75 प्रतिशत की विकास दर पाने की सोच कई बार कुछ ज्यादा ही हो जाती है
Amitabh Bachchan

अमिताभ बच्चन का स्टारडम भारतियों को शौचालय पहुँचाने के लिए पर्याप्त नहीं

कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों को इच्छुक शौचालय उपयोगकर्ताओं में बदलने का होना चाहिए, न कि यह कि अमिताभ बच्चन उन्हें खुले में शौच के लिए शर्मिंदा कर सकें
News on Amit Shah

क्या अमित शाह होंगे 2024 में भाजपा से प्रधानमंत्री उम्मीदवार ?

पार्टी अध्यक्ष पहले से ही राज्य सभा के माध्यम से स्वयं को सरकार की आवाज बना रहे हैं
News on bajrang dal

भाजपा के बढ़ते हिंदुत्व से भारतीय मिडल क्लास ने फेरी नज़रें

उदारवादियों के लिए इस मध्यम वर्ग में राजनीतिक स्थान की तलाश करना बेकार है – उनके लिए गाँधी और नेहरू एक खोई हुई दुनिया के सिर्फ नाम हैं
news on rahul

भाजपा को हराने के लिए राहुल गाँधी आरएसएस से सीखें कुछ गुर

राहुल गांधी की राजनीति में उनकी ही मां सोनिया गांधी की तुलना में अधिक पारंपरिक और कल्पनाशीलता से हीन साबित हुई है।
Imran khan

पाकिस्तान का भविष्य अब प्रधानमंत्री इमरान खान की भारत पॉलिसी पर निर्भर

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए इमरान खान और असद उमर कर सकते हैं नरसिम्हा राव और मनमोहन सिंह जैसे दिलचस्प कार्य
News on Nehru

नेहरू सर्वश्रेष्ठ प्रधानमंत्री, वाजपेयी आर्थिक असफलता और राव सबसे ख़राब

नेहरू संग्रहालय में किसी और प्रधानमंत्री को शामिल करना, देश की रूह से खिलवाड़ है
news internet

रविशंकर प्रसाद फेक न्यूज़ पर कसना चाहते हैं लगाम पर भाजपा आईटी सेल पर...

अगर मोदी सरकार नकली खबरों को लेकर सच में गंभीर थी तो उसे अपने आईटी सेल्स और पार्टी के नेताओं समेत सभी मोर्चों पर कोई शून्य सहिष्णुता अपनानी चाहिए थी

मत-विमत

राजनीति

राष्ट्रीय सुरक्षा

दैनिक भास्कर सम्पादक ने पूर्व सहकर्मी द्वारा सेक्स स्कैंडल और ब्लैकमेल के डर से करी आत्महत्या

पुलिस अब भी मुंबई स्थित पत्रकार, सलोनी अरोड़ा को ढून्ढ रही है, जिन्हें कल्पेश याग्निक को ख़ुदकुशी के लिए उकसाने के जुर्म में बुक किया गया है

लास्ट लाफ