Sunday, 18 April, 2021
होम देश विज्ञान-टेक्नॉलॉजी

विज्ञान-टेक्नॉलॉजी

इसरो के PSLV-C51 ने ब्राजील के Amazonia-1 समेत 18 सैटेलाइट को सफलतापूर्वक लांच किया  

पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है.

भारत में 7,000 से ज्यादा कोविड म्यूटेशंस- ये कहां से आए हैं और इन्हें कैसे समझा जाए

‘पैतृक’ म्यूटेशन से लेकर इम्यून इवेशन तक, भारत में प्रचलित बहुत से कोविड वेरिएंट्स के बारे में बुनियादी बातें जानिए.

‘यह तस्वीरें हमारे सपनों का हिस्सा’- नासा ने मंगल पर उतरते रोवर ‘पर्सवियरन्स’ की जारी की वीडियो

नासा का रोवर ‘पर्सवियरन्स’ शुक्रवार तड़के मंगल की सतह पर उतरा था. यह जेजोरो क्रेटर (महाखड्ड) में उतरा है. यह नासा द्वारा अब तक भेजा गया सबसे बड़ा और सर्वाधिक उन्नत रोवर है.

जीवन की तलाश में मंगल पर उतरा नासा का रोवर ‘पर्सवियरन्स’, बाइडन बोले- कुछ भी असंभव नहीं

‘पर्सविरन्स’ नासा द्वारा भेजा गया अब तक का सबसे बड़ा रोवर है. 1970 के दशक के बाद से अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी का यह नौवां मंगल अभियान है.

‘बर्फीले तूफान’ से आई होगी उत्तराखंड में अचानक से बाढ़- हिमनद विज्ञानी डीपी डोभाल

देहरादून के वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी के हिमनद विज्ञानी डोभाल का कहना है कि जमा हुए बर्फ से आए बर्फीले तूफान ने, उस ढीले मलबे को हिला दिया होगा जिसने एक विशाल झील के पानी को रोका हुआ था.

बिरयानी, उपमा और हलवा- DRDO लैब द्वारा गगनयान के लिए बनाया गया मैन्यू घर जैसा स्वाद देगा

सीमा पर तैनात सैनिकों और अंटार्कटिक अभियान में शामिल वैज्ञानिकों के लिए खाद्य उत्पादों को विकसित करने में अग्रणी रक्षा खाद्य अनुसंधान प्रयोगशाला ने गगनयान के लिए मेन्यू को अंतिम रूप दे दिया है.

बांध से कैसे नियंत्रित की जा सकती है बाढ़- 2013 की उत्तराखंड त्रासदी के बाद विशेषज्ञों ने क्या कहा...

एक्सपर्ट पैनल का गठन केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने जून 2013 की उत्तराखंड बाढ़ के दौरान, पनबिजली परियोजनाओं के असर का मूल्यांकन करने के लिए किया था जिसमें सैकड़ों लोग मारे गए थे.

सतह नहीं उस हवा में कोरोना के मौजूद रहने की संभावना जिसमें हम सांस लेते हैं, वैज्ञानिकों ने कहा-...

महामारी की एक वर्ष की अवधि में सामने आए तमाम अहम वैज्ञानिक साक्ष्य इस तरफ इशारा करते हैं कि कोविड-19 का संक्रमण सतह को छूने की तुलना में हवा में मौजूद होने के कारण ज्यादा फैलता है.

करीब 400 साल बाद शनि और बृहस्पति के ‘मिलन’ की दुर्लभ खगोलीय घटना की आज गवाह बनेगी दुनिया

बृहस्पति और शनि के एक साथ आने की यह महान घटना लोग नग्न आंखों से देख पाएंगे, जब दोनों ग्रह अपनी कक्षाओं से गुजरते वक्त एक समय एक-दूसरे में ‘समाहित’ एक चमकीले स्पॉट की तरह नज़र आएंगे.
WhatsApp fake news

व्हाट्सऐप को भारत में चरणबद्ध तरीके से भुगतान सेवा शुरू करने की मिली अनुमति

एनपीसीआई एकीकृत भुगतान इंटरफेस (यूपीआई) का परिचालन करता है, जो वास्तविक समय में दो मोबाइल फोन या किसी दुकानदार के साथ खरीद-फरोख्त में भुगतान की सुविधा देती है.

मत-विमत

राजनीति

देश

कुंभ मेला से लौटने वालों को 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन होना जरूरी, कोविड मामलों के बीच...

दिल्ली की ही तरह मध्य प्रदेश सरकार ने भी हरिद्वार कुंभ मेले से लौटने वाले सभी श्रद्धालुओं को उनके निवास ग्राम या नगर में पहुंचते ही ‘स्व-पृथकवास’ में रहने का आदेश दिया है.

लास्ट लाफ

क्यों लोकतंत्र आजकल ‘Bye the People’ है, और यमराज की कोविड वेटिंग लिस्ट

चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.