मत-विमत

Mumbai news

हर मॉनसून डूबती है मुंबई: क्यों बीमारी और थकावट से ग्रस्त है यह शहर

जैसे ही एक और पुल गिरता है और मुंबईवासी दोषारोपण हैं। खुद को दोबारा याद दिलाने के लिए इन इबारतों को साझा करते हैं कि कैसे उन्होंने अपने खुद के शहर को सड़ने-गलने के...
नितीश कुमार

सुबह का भूला यदि शाम को घर न लौटे, तो उसे नीतीश कुमार कहते हैं

नीतीश कुमार ने हमेशा दूसरों की बैसाखी पर विशुद्ध सहुलियत भरी राजनीति की है। अब उनका सामना मोदी-शाह की तानाशाही वाली भाजपा से हुआ, तो इनके होश उड़े हुए हैं
WhatsApp fake news

फेक न्यूज़ से लोग मर रहे हैं और व्हाट्सएप बस खड़े खड़े तमाशा देख रहा है

20 करोड़ भारतीयों द्वारा उपयोग की जाने वाली मैसेंजर सेवा को अपने पक्ष को सिद्ध करना है
lalu-Nitish

मोदी को यदि हराना है, तो नितीश को गले लगाना है

2019 लोकसभा चुनावों में भाजपा को हराने के लिए विपक्ष के लिए बिहार एक महत्वपूर्ण राज्य है।
Sushma Swaraj

सुषमा स्वराज तो ट्रोल हुई हीं, पर आईआईटी की छवि को भी पंहुचा है नुकसान

यह जरूर कहा जाना चाहिए कि आईआईटी वैल्यू सिस्टम का इस प्रकार के व्यवहार के साथ कोई लेना-देना नहीं है, चाहे यह किसी भी माध्यम पर हो
rahul gandhi

हर कोई यात्रा करता है, तो राहुल गाँधी की छुट्टियों पर इतनी उत्तेजना क्यों?

राहुल गांधी कांग्रेस का चेहरा हैं। उनके शब्दों और कार्यों से यह प्रभाव पड़ता है कि लोग पार्टी के बारे में क्या सोचते हैं।
WhatsApp rumors kill 29

सिर्फ एक व्हाट्सएप्प अफवाह से हुई 29 लोगों की मौत, पर किसको है परवाह?

अगर प्रधानमंत्री इन व्हाट्सएप अफवाहों का शिकार न होने का अनुरोध करते हैं तो इससे कुछ फर्क पड़ सकता है। लेकिन कोई भी उनसे ऐसा करने के लिए नहीं कह रहा है। नरेंद्र मोदी के समक्ष यह पूछने में कई हफ्ते लग जाते हैं कि किसी मुद्दे पर प्रधानमंत्री चुप क्यों हैं।
Ranbir Kapoor as Sanju

दत्त नहीं तो मुन्ना भाई सही, कैसे ‘संजू’ के किरदार को निभाते हैं रणबीर कपूर

फिल्म में मीडिया को बहुत बुरे रूप में दर्शाया गया है क्योंकि समाचार पत्रों ने दत्त के जीवन को बर्बाद कर दिया है। समाचार सुर्ख़ियों के सवालिया निशान उन्हें असहाय छोड़ते हुए उन्हें दोषी ठहराते हैं
foreign policy

मोदी सरकार की गलतियों की बदौलत, पटरी से उतर चुकी है भारत की विदेश नीति

मोदी की राजनयिक 'जीत' पुरानी हो गई है और भारत के विदेशी संबंध पूरी तरह असफल दिखाई देते हैं। यहाँ बताया गया है कि सरकार के गलत कदमों ने किस तरह से उनकी गति पर विराम लगा दिया है।
crony capatilism

गैर कानूनी मामलों में अब पब्लिक कंपनियों को टक्कर दे रही हैं प्राइवेट कंपनियां

बाजार-उन्मुख सुधार भारतीय अर्थव्यवस्था को आगे ले जाने के लिए एकमात्र रास्ता है। लेकिन व्यावसायिकों की असफलताओं ने इस प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न कर दी है

मत-विमत

राजनीति

देश

जो लड़की डॉक्टर बनने के सपने देख रही थी, उसे चाकू से गोद कर और बैट से...

'उसने कुबूल किया है कि वो उस लड़की से दोस्ती करना चाहता था. यह एकतरफा प्यार का मामला है, लड़की ने किसी भी तरह की दोस्ती और प्यार के लिए मना कर दिया था.

लास्ट लाफ

केदारनाथ में नरेंद्र मोदी की ‘सेल्फी-साकार’ और ‘एग्जिट पोल’ के ‘गपशप’ के ‘बादल’

चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- दिप्रिंट, ऑनलाइन या सोशल मीडिया पर और इन्हें उचित श्रेय भी मिला है.