Saturday, 25 June, 2022
होमराजनीतिकिसानों की हालत ने BJP के हर झूठ का पर्दाफाश किया : अखिलेश यादव

किसानों की हालत ने BJP के हर झूठ का पर्दाफाश किया : अखिलेश यादव

बीते तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी के तिकोनिया इलाके में हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हुई थी.

Text Size:

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बागपत में कर्ज में डूबे एक किसान की कथित आत्महत्या को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार पर हमला करते हुए बुधवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज में किसानों की हालत ने इस सरकार के हर तरह के झूठ का पर्दाफाश कर दिया है.

अखिलेश ने ‘नहीं चाहिए भाजपा’ हैशटैग के साथ ट्वीट किया, ‘उत्तर प्रदेश के बागपत में कर्ज में डूबे किसान की आत्महत्या की घटना अत्यंत हृदय विदारक. भाजपा के राज में किसानों के ऐसे हालात सरकार के सभी झूठ का पर्दाफाश कर रहे हैं. आखिर कब तक यह सब सहेगा प्रदेश का किसान?’

 

बागपत जिले के बिहारीपुर गांव में मंगलवार को चौधरी अनिल कुमार (45) नामक किसान ने फांसी लगाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी, उनके परिजन के मुताबिक कुमार ने 10 लाख रुपए कर्ज लिया था, जिसे नहीं चुका पाने के कारण वह बहुत परेशान थे.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

हालांकि, कोतवाल अजय कुमार शर्मा ने कहा कि किसान के परिजन ने उन्हें यह नहीं बताया कि कुमार ने कोई कर्ज ले रखा था. अखिलेश ने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘उत्तर प्रदेश के समस्त निवासियों, किसानों के शुभचिंतकों और सपा व अन्य सहयोगी पार्टियों से अपील है कि आज ‘लखीमपुर किसान स्मृति दिवस’ मनाएं. आज ‘किसान स्मृति दीप’ जलाएं और अन्नदाताओं का मान बढ़ाएं.’

 

सपा ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा था, ‘उत्तर प्रदेश के समस्त निवासियों किसानों के शुभचिंतकों और सपा व अन्य सहयोगी पार्टियों से अपील है कि अब से हर महीने की तीन तारीख को लखीमपुर किसान स्मृति दिवस मनाएं और लोगों को भाजपा की क्रूरता की याद दिलाएं. इस तीन नवंबर को सभी किसानों की स्मृति में दीप जलाएं और अन्नदाताओं का मान बढ़ाएं.’

बीते तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी के तिकोनिया इलाके में हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हुई थी. इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.


यह भी पढ़े: ‘हवाओं ने अपनी दिशा बदल दी है, भाजपा की उलटी गिनती शुरू’, उपचुनावों में जीत पर बोली कांग्रेस


 

share & View comments