Thursday, 7 July, 2022
होमदेशनए साल पर रेलवे का तोहफा, एक ही नंबर पर मिलेंगी 8 सेवाएं

नए साल पर रेलवे का तोहफा, एक ही नंबर पर मिलेंगी 8 सेवाएं

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा,' रेलवे की विभिन्न हेल्पलाइन नंबरों को एकीकृत कर 139 में बदल दिया गया है, यह नंबर इंटरएक्टिव वॉइस रिस्पांस पर आधारित है.'

Text Size:

नई दिल्ली: नए साल 2020 का आगाज हो गया है. भारतीय रेलवे ने भी पहले दिन अपने करोड़ों यात्रियों को बड़ा तोहफा दिया है. रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर 139 को और बेहतर बनाया है. मंत्रालय ने 139 को एकीकृ​त रेलवे हेल्पलाइन में तब्दील कर दिया है. यह अब इंटेरेक्टिव वाइस रिस्पांस पर आधारित होगी. अब यात्रियों को अलग-अलग हेल्पलाइन के लिए अलग-अलग नंबर याद रखने की आवश्यकता नहीं होगी. 1 जनवरी 2020 ये रेलवे की अन्य हेल्पलाइन के बजाए एक ही नंबर 139 का इस्तेमाल किया जा सकेगा.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा,’ रेलवे की विभिन्न हेल्पलाइन नंबरों को एकीकृत कर 139 में बदल दिया गया है, यह नंबर इंटरएक्टिव वॉइस रिस्पांस पर आधारित है. यह व्यवस्था 1 जनवरी से लागू की जा रही है, इसके शुरु होने पर यात्रियों को सहायता के लिये अलग अलग नंबरों के स्थान पर सिर्फ एक हेल्पलाइन नंबर 139 को याद रखना होगा.’

एक ही नंबर पर खाने की शिकायत और इमरजेंसी की मिलेगी सुविधाएं

पहले भारतीय रेलवे ने यात्रियों से संबंधित शिकायत के लिए कई तरह के नंबर जारी किए थे. इन नंबरों को याद रखने और सर्विस को लेकर कई बार परेशान हो जाते थे. इसके चलते रेलवे ने 1 जनवरी से दूसरी हेल्पलाइन नंबर के बजाए 139 नंबर जारी किया है. इस एक ही नंबर से कई तरह का समस्याओं का निदान हो सकेगा. इस नंबर पर यात्री मेडिकल इमरजेंसी, साफ-सफाई और कैटरिंग और कोच की देखभाल जैसी समस्याओं के अलावा रेल दुर्घटना और भ्रष्टाचार से जुड़ी जानकारी भी इस नंबर पर भी दे सकेंगे. यह हेल्पलाइन सेवा 12 भाषाओं में उपलब्ध है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

 

नए साल में महंगा हुआ रेल का सफर

वहीं, नए साल 2020 में भारतीय रेलवे में सफर करना यात्रियों के लिए महंगा हो गया है. रेलवे ने जनरल से एसी तक सभी क्लास का किराया बढ़ा दिया है. भारतीय रेलवे ने नववर्ष की पूर्व संध्या पर राष्ट्रव्यापी स्तर पर किराया बढ़ाने की घोषणा की, जो एक जनवरी 2020 से लागू हो गई है. हालांकि, उपनगरीय ट्रेनों को किराया वृद्धि से बाहर रखा गया है.

रेल मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी आदेश के अनुसार साधारण गैर वातानुकूलित, गैर उपनगरीय भाड़े में एक पैसा प्रति किलोमीटर के हिसाब से वृद्धि की गई है.

मेल/एक्सप्रेस गैर वातानुकूलित ट्रेनों के किराए में दो पैसे प्रति किलोमीटर और वातानकूलित श्रेणियों में चार पैसे प्रति किलोमीटर की वृद्धि की गई है.

किराया वृद्धि में राजधानी, शताब्दी और दूरंतो जैसी प्रीमियम ट्रेन भी शामिल हैं. 1,447 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली दिल्ली-कोलकाता राजधानी ट्रेन के किराए में चार पैसे प्रति किलोमीटर के हिसाब से लगभग 58 रुपये की बढ़ोतरी होगी.

आदेश के अनुसार आरक्षण और सुपरफास्ट शुल्क में कोई बदलाव नहीं होगा. इसके साथ ही पहले ही बुक हो चुकीं टिकटों पर भी भाड़ा वृद्धि लागू नहीं होगी.

share & View comments

4 टिप्पणी

  1. जबलपुर से मंदसोर जाना है मोबाइल 7999696103

  2. As hamare pitaji Ka aaz death hogaya hai mughe. Ludhiana se Gaya jana.hai.please mughe Ludhiana. Se Gaya Ka 22.6.20.kotikat.diya jay.ya 25.6.20.ko.

  3. As hamare pitaji Ka aaz death hogaya hai mughe. Ludhiana se Gaya jana.hai.please mughe Ludhiana. Se Gaya Ka 22.6.20.kotikat.diya jay.ya 25.6.20.ko.

Comments are closed.