Saturday, 25 June, 2022
होमहेल्थदिल्ली के फ्रंट लाइन वर्कर्स पर कोविड का हमला, 1000 पुलिसकर्मी तो 800 से ज्यादा डॉक्टर्स चपेट में

दिल्ली के फ्रंट लाइन वर्कर्स पर कोविड का हमला, 1000 पुलिसकर्मी तो 800 से ज्यादा डॉक्टर्स चपेट में

कोरोना की तीसरी लहर दिल्ली के फ्रंट लाइन वर्कर्स पर काफी भारी पड़ रही है. दिल्ली में करीब एक हजार पुलिसकर्मी तो 800 से ज्यादा कोरोना संक्रमित हो गए हैं.

Text Size:

नई दिल्लीः दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत ने फ्रंट लाइन वर्कर्स को अपनी चपेट में ले लिया है. जहां एक तरफ दिल्ली पुलिस के करीब 1000 जवान कोविड पॉज़िटिव पाए गए हैं वहीं करीब 800 से ज्यादा डॉक्टर भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं.

दिल्ली पुलिस के मुताबिक एडिशनल कमिश्नर चिन्मय विस्वाल और दिल्ली पुलिस के पब्लिक रिलेशंस ऑफिसर सहित करीब 1000 पुलिसकर्मियों को कोविड पॉजिटिव पाया गया है. जिन भी लोगों कोरोना हुआ है वे सभी इस वक्त क्वारेंटाइन हैं. दिल्ली पुलिस में 80,000 से ज्यादा कर्मी हैं.

हाल में दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने पुलिस कर्मियों के बीच कोरोनावायरस को फैलने से रोकने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की थी. एसओपी के अनुसार, सभी पुलिस कर्मियों को ड्यूटी के दौरान चेहरे पर मास्क लगाना, सामाजिक दूरी का पालन करना और उचित तरीके से हाथों को धोना/सैनेटाइज करना चाहिए.

इसमें कहा गया है, ‘जिन कर्मियों ने चिकित्सा वजहों से कोविड-19 रोधी टीके की खुराक नहीं ली है वे टीकाकरण के लिए फिर से चिकित्सकों की राय ले सकते हैं.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

800 से ज्यादा डॉक्टर्स भी हो चुके हैं कोरोना से संक्रमित

इसके अलावा दिल्ली के करीब 5 बड़े हॉस्पिटल्स में 800 से ज्यादा डॉक्टर्स भी कोविड की चपेट में आ चुके हैं. फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया मेडिकल एसोसिएशन के प्रेसिडेंट डॉ रोहण कृष्णन ने बताया कि, ‘दिल्ली में इस वक्त करीब 800 से ज्यादा डॉक्टर्स कोविड से संक्रमित हो चुके हैं. लेकिन सरकार की गाइलाइन्स के मुताबिक अब इन्हें क्वारेंटाइन की सुविधा नहीं दी जाएगी बल्कि मुंह पर टाइट मास्क लगा के काम करना होगा. ऐसे में बाकी डॉक्टरों को भी संक्रमण होने की काफी संभावना है.’

वहीं एफएआईएमए के पूर्व प्रेसिडेंट नेशनल एडवाइजर और कवती हॉस्पिटल में सीनियर रेजीडेंट पीडियाट्रिक डॉ राकेश बागडी का कहना है कि, ‘डॉक्टर्स के लिए भी दिन भर मुंह में टाइट मास्क लगा के काम करना काफी मुश्किल है. उनके मुताबिक दिल्ली के अस्पतालों में करीब एक हजार के आस-पास डॉक्टर्स कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं.’

कई सेलिब्रिटीज़ को हो चुका है कोरोना

कोरोना की तीसरी लहर काफी तेजी से फैल रही है. इसके पहले तमाम जानी-मानी हस्तियों जैसे सौरव गांगुली, टीएमसी नेता डेरेक ओब्रायन, मनोज तिवारी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, जीतन राम मांझी और बाहुल सुप्रियो को भी हो चुका है. इसमे अलावा महाराष्ट्र में 10 मंत्री, 20 विधायक भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं.


यह भी पढ़ेंः ‘चरमरा जाएगा स्वास्थ्य ढांचा’: बंगाल में शुरू हुए गंगा सागर मेले को लेकर विशेषज्ञों ने जताई चिंता


 

share & View comments