Monday, 8 August, 2022

विनोद कुमार

Avatar
26 पोस्ट0 टिप्पणी

मत-विमत

अल-जवाहिरी की मौत के बाद भी तालिबान अल-कायदा को नहीं छोड़ेगा, काबुल सुरक्षित पनाहगाह है

तालिबान में व्यावहारिक नजरिया रखने वाले अंतरराष्ट्रीय मान्यता और राष्ट्र-निर्माण में मदद हासिल करने के खातिर वैश्विक जेहाद से नाता तोडऩे को तैयार हैं, मगर यह इतना आसान नहीं.

वीडियो

राजनीति

देश

न्यायालय ने शराब पर निर्भरता के लिए सेवा मुक्त जवान की पेंशन के मामले में दखल से इनकार किया

नयी दिल्ली, आठ अगस्त (भाषा) उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को सेना के एक जवान को पेंशन देने के सशस्त्र बल अधिकरण (एएफटी) के...

लास्ट लाफ

कांग्रेस का आखिर में ‘यंग इंडियन’ और ‘हर घर महंगाई में इजाफे’ को लेकर विरोध प्रदर्शन

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.