Friday, 21 January, 2022
होमराजनीतिशिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने राज्यसभा से निलंबन के विरोध में संसद टीवी का कार्यक्रम छोड़ा

शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने राज्यसभा से निलंबन के विरोध में संसद टीवी का कार्यक्रम छोड़ा

प्रियंका राज्यसभा के उन 12 सदस्यों में शामिल हैं जिन्हें सदन में खराब आचरण के कारण हाल में निलंबित कर दिया गया था.

Text Size:

मुंबई: शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने रविवार को जानकारी दी कि उन्होंने संसद टीवी के कार्यक्रम ‘मेरी कहानी‘ की एंकरिंग नहीं करने का फैसला किया है. प्रियंका राज्यसभा के उन 12 सदस्यों में शामिल हैं जिन्हें सदन में खराब आचरण के कारण हाल में निलंबित कर दिया गया था.

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू को पांच दिसंबर को लिखे पत्र में प्रियंका ने लिखा, ‘मेरे मनमाने निलंबन के बाद, जिसने स्थापित संसदीय मानदंडों और नियमों को पूरी तरह से कलंकित किया है, मेरी और मेरी पार्टी की आवाज को दबाने की कोशिश की गई. जब मुझे संविधान की प्राथमिक शपथ से वंचित किया जा रहा है, ऐसे में मैं संसद टीवी का दायित्व निभाने को अनिच्छुक हूं.’

ट्विटर पर साझा किए गए पत्र में प्रियंका ने यह भी लिखा है कि ऐसे समय में जब राज्यसभा के रिकॉर्ड इतिहास में सबसे ज्यादा में महिला सांसदों को ‘देश की जनता के हित में आवाज उठाने के लिए’ पूरे सेशन से निलंबित कर दिया गया है, ‘उनके लिए बोलने’ और ‘उनके साथ खड़े’ की जरूरत है.

उन्होंने आगे लिखा कि ‘साथ ही, पिछले सेशन में 12 सांसदों को आचरण के कारण पूरे सत्र के लिए निलंबित किए जाने को संसद के इतिहास में कभी नहीं भूलना चाहिए’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

गौरतलब है कि 12 विपक्षी सांसदों को अगस्त में पिछले सत्र के दौरान उनके खराब आचरण के कारण सोमवार को संसद के पूरे शीतकालीन सत्र के लिए राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया था. इनमें कांग्रेस के छह, तृणमूल कांग्रेस और शिवसेना के दो-दो, सीपीआई और सीपीआईएम के एक-एक सदस्य शामिल हैं.

प्रियंका को सत्र से निलंबित करने के पीछे की वजह उनके द्वारा कथित तौर पर कागज फाड़ने और सदन की मेज की ओर फेंकने को बताया जा रहा है.

उन्नति शर्मा के इनपुट से.


यह भी पढ़ें: UP पुलिस की आशा वर्कर्स के साथ ‘ज्यादती’, प्रियंका का BJP पर निशाना, कहा- लड़ाई में बहनों के साथ हूं


 

share & View comments