scorecardresearch
Monday, 15 July, 2024
होमदेशUP पुलिस की आशा वर्कर्स के साथ 'ज्यादती', प्रियंका का BJP पर निशाना, कहा- लड़ाई में बहनों के साथ हूं

UP पुलिस की आशा वर्कर्स के साथ ‘ज्यादती’, प्रियंका का BJP पर निशाना, कहा- लड़ाई में बहनों के साथ हूं

गांधी ने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी आशा बहनों के मानदेय के हक और उनके सम्मान के प्रति प्रतिबद्ध है और सरकार बनने पर आशा बहनों एवं आंगनबाड़ी कर्मियों को 10,000 रुपये प्रतिमाह का मानदेय देगी.’

Text Size:

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में लगातार महिलाओं के मुद्दे उठा रही प्रियंका गांधी ने बुधवार को शाहजहांपुर में सीएम योगी से मिलने पहुंची आशा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ज्यादती को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि वह इस लड़ाई में आशा बहनों के साथ हैं.

गौरतलब है कि बुधवार को सीएम योगी से मिलने पहुंची आशा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने कथित तौर पर बल प्रयोग किया है. इसका एक वीडियो यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय लल्लू ने शेयर किया है. जिसमें इन वर्कर्स को पुलिस जोर-जबर्दस्ती बस में बिठाती दिख रही है.

वहीं यूपी कांग्रेस की प्रभारी प्रियंका गांधी ने इस वीडियो को शेयर कर भाजपा पर हमला बोला है.

उन्होंने इस कथित घटना का एक वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आशा बहनों पर किया गया एक-एक वार उनके द्वारा किए गए कार्यों का अपमान है. मेरी आशा बहनों ने कोरोना में और अन्य मौकों पर पूरी लगन से अपनी सेवाएं दीं. मानदेय उनका हक है. उनकी बात सुनना सरकार का कर्तव्य है.’

प्रियंका गांधी ने कहा, ‘आशा बहन सम्मान की हकदार हैं और मैं इस लड़ाई में उनके साथ हूं.’

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी आशा बहनों के मानदेय के हक और उनके सम्मान के प्रति प्रतिबद्ध है और सरकार बनने पर आशा बहनों एवं आंगनबाड़ी कर्मियों को 10,000 रुपये प्रतिमाह का मानदेय देगी.’

share & View comments