Monday, 8 August, 2022
होमदेशनूपुर शर्मा का समर्थन करने पर उदयपुर में युवक की गला काटकर हत्या, 'PM मोदी को दी जान से मारने की धमकी'

नूपुर शर्मा का समर्थन करने पर उदयपुर में युवक की गला काटकर हत्या, ‘PM मोदी को दी जान से मारने की धमकी’

उदयपुर के मालदास स्ट्रीट में सुप्रीम टेलर्स दुकान में हत्यारे कपड़े का नाप देने घुसे और फिर इशारे से कन्हैयालाल तेली की तलवार से उसकी गर्दन पर कई वार किए. शहर में दिनदहाड़े हुई हत्या के विरोध में प्रदर्शन चल रहा है. इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: राजस्थान के उदयपुर में भाजपा जनता पार्टी की पूर्व नेत्री नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले एक शख्स की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई है. हमलावर मंगलवार दोपहर उसकी दुकान पर अपने कपड़े का नाप देने घुसे और तलवार से कई वार कर उसकी हत्या कर दी.

हमलावरों ने युवक की हत्या का वीडियो भी बनाया उसके बाद संदेश भी जारी किया जिसमें उन्होंने पीएम मोदी को भी जान से मारने की धमकी दी है.

उदयपुर के मालदास स्ट्रीट में कन्हैयालाल तेली सुप्रीम टेलर्स नाम से अपनी दुकान चलाते हैं. दोपहर को दुकान में हत्यारे में कपड़े का नाप देने के लिए घुसे और फिर इशारे से उसपर तलवार से उसकी गर्दन पर वार करना शुरू कर दिया.

दिनदहाड़े हुई इस हत्या के बाद उदयपुर शहर में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. घटना के बाद मालदास बाजार में दुकानें बंद कर दी गईं हैं. बढ़ते प्रदर्शन को देखकर उदयपुर में 24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गयी है.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिनदहाड़े हुई इस हत्या पर चिंता जाहिर करते हुए लोगों को शांति बनाए रखने की अपील की है. उन्होंने कहा, ‘यह चिंता की बात है. इस प्रकार से किसी की हत्या कर देना दुखद और शर्मनाक है. देश का माहौल ठीक करने की जरूरत है.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने आगे कहा,’ पूरे देश में तनाव का माहौल बन गया है. मैं बार बार पीएम और गृहमंत्री से बोलता हूं कि देश को संबोधित करें.’

अशोक गहलोत ने आगे कहा, ‘पीएम को अपील करनी चाहिए कि हम किसी भी कीमत पर हिंसा को बर्दाश्त नहीं करेंगे. सब प्रेम और भाईचारे से रहें.’

‘देश का माहौल खराब’

सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, ‘उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं. इस घटना में शामिल सभी अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी. पुलिस अपराध की पूरी तह तक जायेगी. मैं सभी पक्षों से शांति बनाये रखने की अपील करता हूं. ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलायी जायेगी.’

मुख्यमंत्री गहलोत ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘मैं सभी से अपील करता हूं कि इस घटना का वीडियो शेयर कर माहौल खराब करने का प्रयास न करें. वीडियो शेयर करने से अपराधी का समाज में घृणा फैलाने का उद्देश्य सफल होगा.’

हत्या के मामले में उदयपुर के कलेक्टर तारा चंद मीणा ने कहा, ‘ अपराधी की कोई जाति नहीं होती है. कानून अपना काम कर रहा है और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी. पीड़ित परिवार को यथासंभव सहायता प्रदान की जाएगी.’


यह भी पढ़ें: तैरती दुकानें, सड़कें बनीं नदियां – कैसे बाढ़ ने आर्थिक रूप से असम के सिलचर को घुटनों पर ला दिया


आरोपियों की हुई पहचान, एसपी, आई जी सभी सड़क पर

दिन दहाड़े हुई हत्या पर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर हवा सिंह घुमरिया ने कहा, ‘ये जनमानस को उद्वेलित करने वाली घटना है. वीडियो वायरल होने से मामले और ज्यादा संवेदनशील हो गया है. पूरे राज्य को में हमने SPs और IGs को अपने-अपने इलाके में गश्त बढ़ाने, अधिकारियों को ज्यादा से ज्यादा फील्ड में उतारने के लिए कहा है.’

तेजी से बढ़ रहे प्रदर्शन के बारे में घुमरिया ने आगे कहा,’ एक डीआईजी जो वहां काफी रह चुके हैं उन्हें भेजा गया है. अधिकारियों के साथ-साथ करीब 600 की संख्या में पुलिस फोर्स वहां भेजी गई है, रात तक कुछ और फोर्स भी भेजी जाएगी .’

उदयपुर के एसपी ने कहा, ‘कुछ आरोपियों की पहचान की गयी है. आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की टीमों का गठन किया गया है. हम उस शख्स के खिलाफ कार्रवाई करेंगे, जिसने इस घटना की जिम्मेदारी ली है.’

संगठित गैंग का हाथ

राज्यसभा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने इस बाबत अशोक गहलोत से की बात की. उन्होंने कहा, उदयपुर में दोपहर को एक हृदयविदारक और शर्मनाक हत्या हुई है. वीडियो भी वायरल किया गया है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘ किसी गिरोह के बिना इस प्रकार की हत्या नहीं हो सकती. मेरी SP से, DG से और CM से भी बात हुई है.आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ़्तार किए जाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया है कि आरोपियों को गिरफ्तार किया जायेगा. पीड़ित के परिजनों को मदद दी जायेगी. उन्होंने कहा कि ऐसी घटना किसी एक व्यक्ति की करतूत नहीं है. इसके पीछे कोई न कोई संगठन है. यह वीभत्स मामला है और प्रशासन की विफलता है.

वहीं राज्यसभा सांसद राज्यवर्धन राठौड़ ने इस हत्या के लिए गहलोत सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए ट्वीट किया,

उदयपुर की इस नृशंस घटना की जिम्मेदार गहलोत सरकार है. क्योंकि इस सरकार ने करौली दंगा के मुख्य दंगाई को खुला छोड़ा. टोंक में मौलाना ने हिंदुओं की गर्दन उतारने की धमकी दी, कोई कार्रवाई नहीं हुई. यह हत्यारा भी वीडियो बनाकर नरसंहार की धमकी देता रहा, पर सरकार चुप्पी साधे रही.’

राठौड़ ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, ‘कांग्रेस राज में तालिबानी स्टेट बनने की राह पर राजस्थान.’

‘कांग्रेस के मुस्लिम तुष्टिकरण ने जेहादियों का दुस्साहस इतना बढ़ा दिया है कि वे खुलेआम हिंदुओं की हत्याएं कर रहे हैं, PM को धमकी दे रहे हैं. यह अराजकता गहलोत सरकार द्वारा मजहब विशेष के उपद्रवियों को ढील देने का परिणाम है.’


यह भी पढ़ें: फडणवीस और शिंदे के दुश्मन तो एक हैं मगर उनकी प्राथमिकताएं अलग-अलग हैं


 

share & View comments