Thursday, 7 July, 2022
होमसमाज-संस्कृति

समाज-संस्कृति

केरल के कोच्चि विश्वविद्यालय में सरस्वती पूजा को इजाजत देने से रोका

कोच्चि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के ज्वाइंट रजिस्ट्रार ने लिखे एक पत्र में यह कहते हुए मांग खारिज कर दी है कि यह एक धर्मनिरपेक्ष परिसर है.

मां-बाप के लिए शर्म का कारण बनीं किन्नर ‘मास्टर जी’ अब उनके साथ सेल्फी के लिए लग रही है लाइन

प्रयागराज में पहली बार किन्नर अखाड़े की पेशवाई निकली. पर किन्नरों को आज भी परिवार और समाज में जगह बनाने के लिए जद्दोजहद करनी पड़ रही है. एक शिक्षक की भूमिका में किन्नर आंचल समाज में बदलाव ला रही हैं.

मोहन भागवत बोले- मंदिर बनवाएंगे, जनता बोली तारीख कब बताएंगे

एक तरफ भागवत बोल रहे थे दूसरी तरफ भीड़ का हंगामा. भागवत ने कहा कि जल्द मंदिर बनेगा, लेकिन किसी तारीख की घोषणा न करने पर हंगामा शुरू हो गया.

वीएचपी की धर्म संसद में नहीं शामिल हुआ अखाड़ा परिषद, कई सीटें भी रह गईं खाली

विश्व हिंदू परिषद द्वारा कुंभ में आयोजित धर्म संसद के पहले दिन सबरीमाला, सामाजिक समरसता समेत तमाम प्रस्तावों पर चर्चा हुई. कई संत हुए शामिल.

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने केरल सरकार को आड़े हाथों लिया

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ चीफ मोहन भागवत ने सबरीमाला मंदिर में प्रतिबंधित उम्र वर्ग की महिलाओं के प्रवेश का जिक्र करते हुए कहा कि हिंदुओं की भावनाओं का खयाल नहीं रखा गया.

वीएचपी की धर्म संसद से पहले संत स्वरूपानंद सरस्वती का ऐलान, 21 फरवरी से करेंगे राम मंदिर का निर्माण

प्रयागराज कुंभ में पिछले दो दिनों से परम धर्म संसद चल रही थी, जिसमें बुधवार को स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि राम जन्मभूमि के लिए बलिदान का समय आ गया है.

जयशंकर प्रसाद का ‘गुंडा’ अपराधी नहीं था

जयशंकर प्रसाद काशी में पैदा हुए और पूरा जीवन यहीं बिता दिया. वाराणसी के सीर गोवर्धन में स्थित उनका पुश्तैनी मकान आज भी जर्जर अवस्था में है.

पुण्यतिथि: महात्मा गांधी का वह सपना जो 98 साल से अधूरा है

बिहार विद्यापीठ को जानने वाले लोग कहते हैं कि जब तक डॉ़ राजेंद्र प्रसाद यहां रहे, इस विद्यापीठ की स्थिति सही रही, मगर कालांतर में यह अपनी चमक खोती चली गई.

‘मणिकर्णिका’ दि क्वीन ऑफ झांसी के ये तीन पैसा वसूल सीन

नई दिल्ली: बुंदेले हरबोलों के मुंह हमने सुनी कहानी थी, खूब लड़ी मर्दानी वह तो झांसी वाली रानी थी...वो तो झांसी वाली रानी थी..सुभद्रा...

संस्मरण: ‘लिखना है मुझे अभी कुछ’: ये थी कृष्णा सोबती की आखिरी चाह

अनामिका जी के हाथों में हैं उनके नरम, मुलायम हाथ. एक-एक कर जैसे स्मृतियां उनकी आंखों के आगे अपने बहुरंगी रंगों में तैरने लगतीं हैं.

मत-विमत

वीडियो

राजनीति

देश

बंगाल विस अध्यक्ष व भाजपा के बीच श्यामा प्रसाद मुखर्जी को श्रद्धाजांलि के मुद्दे पर तकरार

कोलकाता, छह जुलाई (भाषा) भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 121वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के मुद्दे पर पश्चिम बंगाल विधानसभा...

लास्ट लाफ

महाराष्ट्र की राजनीति का रिमोट किसके हाथ? और शिवसेना पर आखिर किसका दावा चलेगा

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.