Thursday, 27 January, 2022
होमविदेशताइवान का दावा- चीन के 27 लड़ाकू विमान हमारे हवाई क्षेत्र में घुसे

ताइवान का दावा- चीन के 27 लड़ाकू विमान हमारे हवाई क्षेत्र में घुसे

ताइवान और चीन 1949 के गृह युद्ध में अलग हो गए थे. चीन ताइवान के अंतरराष्ट्रीय संगठनों में शामिल होने का लगातार विरोध करता है.

Text Size:

ताइपे: ताइवान ने दावा किया है कि चीन के 27 विमानों ने रविवार को उसके वायु रक्षा बफर क्षेत्र में प्रवेश किया. यह घटनाक्रम चीन की ओर से ताइवान पर दबाव बनाने की ताजा कोशिश के रूप में देखा जा रहा है.

ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने यह जानकारी दी. ताइवान ने चीन की इस हरकत का जवाब देते हुए अपने लड़ाकू विमानों को रवाना कर चीनी विमानों को चेतावनी दी.

ताइवान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक उसके हवाई क्षेत्र में प्रवेश करने वालों में चीन के 18 लड़ाकू विमान, पांच एच-6 बम वर्षक विमान और ईंधन भरने वाला एक वाई-20 शामिल था.

ताइवान की ओर से साझा की गयी जानकारी के मुताबिक चीनी विमानों ने ताइवान के दक्षिणी भाग के पास उसके वायु रक्षा क्षेत्र में प्रवेश किया और चीन लौटने से पहले प्रशांत महासागर में उड़ान भरी.

गौरतलब है कि चीन ताइवान को अपना क्षेत्र बताते हुए उस पर दावा करता है. वह लोकतांत्रिक रूप से चुनी गयी ताइवान की सरकार को मान्यता देने से इनकार करता है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

ताइवान और चीन 1949 के गृह युद्ध में अलग हो गए थे. चीन ताइवान के अंतरराष्ट्रीय संगठनों में शामिल होने का लगातार विरोध करता है.


यह भी पढ़ें: संसाधनों पर कुलीन वर्ग का कब्जा और कानून के शासन का अभाव पाकिस्तान के अल्पविकास के मुख्य कारण: इमरान खान


 

share & View comments