Rajasthan Assembly elections
राजस्थान में मतदान केंद्र के बाहर लगी कतार. (प्रतीकात्मक तस्वीर: पीटीआई)
Text Size:
  • 26
    Shares

नई दिल्ली: पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम मंगलवार को आ गए. मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और राजस्थान के चुनावी नतीजों पर निगाह डालें तो महिला प्रतिनिधित्व की हालत सभी राज्यों में खराब है. अगर राजनीति में महिलाओं के प्रतिनिधित्व की बात करें तो इस मामले में सभी दल फिसड्डी नजर आ रहे हैं.

पांचों राज्यों में कुल 679 विधानसभा सीटों में चुनाव जीतकर विधानसभा में पहुंचने वाली महिलाओं की कुल संख्या मात्र 59 है. यह संख्या कुल सीटों का लगभग 9 प्रतिशत है.

मध्य प्रदेश में कुल 20 महिलाएं विधानसभा पहुंची हैं. छत्तीसगढ़ में कुल 12 महिलाएं विधानसभा में पहुंची हैं. राजस्थान में 21 महिलाएं विधायक बनी हैं. तेलंगाना में छह महिलाएं विधानसभा पहुंची हैं, वहीं मिजोरम में एक भी महिला को जीत नहीं मिली.

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में कुल 230 विधानसभा सीटों पर चुनाव हुए थे. जिसमें कांग्रेस को 114 सीटें मिली हैं तो वहीं भाजपा के खाते 108 सीट गई हैं. कांग्रेस के 114 विधायकों में कुल 10 महिलाएं विधानसभा पहुंचेंगी तो भाजपा के 108 विधायकों में भी 10 महिला प्रत्याशियों ने जीत का स्वाद चखा है. इस बार बीजेपी ने इस बार 22 महिलाओं को चुनावी मैदान में उतारा था तो वहीं कांग्रेस ने 28 महिलाओं को टिकट दिया था.

छत्तीसगढ़

पंद्रह साल बाद छत्तीसगढ़ की सत्ता पर काबिज हुई कांग्रेस ने इस बार 90 में से 68 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं भाजपा को 15 सीटें मिली हैं. भाजपा ने 14 महिला प्रत्याशियों को टिकट दिए थे जिसमें से केवल एक महिला प्रत्याशी रंजना डीपेन्द्र साहू ने जीत दर्ज की है. कांग्रेस ने 12 महिला उम्मीदवारों पर भरोसा जताया था जिसमें से 10 महिला उम्मीदवार उसके भरोसे पर खरी उतरीं. छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस से अ​जीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी भी चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंची हैं.

राजस्थान

देश के सबसे बड़े क्षेत्रफल वाले राज्य राजस्थान में कुल 200 विधानसभा सीट है. कल घोषित हुए नतीजों में कांग्रेस ने 99 सीटों पर जीत हासिल की है तो वहीं बीजेपी ने 73 सीटें जीती हैं. इस बार के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने कुल 27 महिला प्रत्याशियों को मौका दिया था. जिनमें से तीन मुस्लिम समुदाय से थीं. कांग्रेस की इन 27 महिला उम्मीदवारों में से 11 महिलाएं विधानसभा की चौखट पर पहुंचेंगी. वहीं दूसरी ओर भाजपा की ओर से विधानसभा चुनाव के मैदान में उतरी कुल 23 महिलाओं में एक भी मुस्लिम नहीं थी. बीजेपी की 23 महिला उम्मीदवारों में से 10 ने जीत दर्ज की.

तेलंगाना

तेलंगाना में दूसरी बार हो रहे विधानसभा चुनाव में कुल 119 सीटों पर चुनाव लड़े गए. मंगलवार को आए तेलंगाना विधानसभा चुनाव के नतीजों में केवल छह महिला प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है. इससे पहले विधानसभा में नौ महिला विधायक थीं. कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों ने कुल मिला कर 14 महिलाओं को विधानसभा टिकट दिए थे. भाजपा ने भी 14 महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था. बहुजन लेफ्ट मोर्चें के तरफ से दस महिला उम्मीदवार के अलावा एक ट्रांसजेंडर इंडिपेंडेंट उम्मीदवार चंद्रमुखी ने विधायक बनने के लिए ताल ठोका था.

मिजोरम

पांच राज्यों में से एक पूर्वोत्तर राज्य मिजोरम में कुल 40 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में कुल 16 महिलाओं को टिकट दिया गया था, लेकिन इन 16 में से एक भी कैंडिडेट ने जीत हासिल नहीं कर पाई. मिजो नेशनल फ्रंट 26 सीट जीत कर सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी है. लेकिन उसने किसी भी महिला उम्मीदवार को मैदान में नहीं उतारा. राज्य में पहली बार लड़ रही भाजपा ने 6 महिला उम्मीदवार को टिकट दिया था. कांग्रेस ने केवल एक महिला उम्मीदवार को मैदान में उतारा था. कई क्षेत्रीय दलों को मिलाकर बने जोराम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) ने दो महिला प्रत्याशी उतारा था.


  • 26
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here