Wednesday, 29 June, 2022
होमराजनीतिगोवा में TMC नेताओं के दौरे से BJP शासित राज्य में तृणमूल के चुनाव लड़ने की चर्चा तेज

गोवा में TMC नेताओं के दौरे से BJP शासित राज्य में तृणमूल के चुनाव लड़ने की चर्चा तेज

गोवा के सियासी सूत्रों ने दावा किया है कि टीएमसी कांग्रेस के कुछ नेताओं और गोवा के निर्दलीय विधायक के संपर्क में है और अगले साल फरवरी में तय विधानसभा चुनावों के लिए उनके साथ हाथ मिलाने पर विचार कर रही है.

Text Size:

पणजी: सांसद डेरेक ओ ब्रायन सहित तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कुछ वरिष्ठ नेताओं के गोवा पहुंचने के बाद से यह चर्चा तेज हो गई कि ममता बनर्जी नीत तृणमूल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में मैदान में उतर सकती है.

पार्टी सहयोगी प्रसून जोशी के साथ ओ ब्रायन बृहस्पतिवार दोपहर को दाबोलिम हवाई अड्डे पर उतरे जहां से वे पणजी पहुंचे.

संवाददाताओं द्वारा तटीय राज्य के दौरे पर आने की वजह पूछे जाने पर उन्होंने कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

गोवा के सियासी सूत्रों ने दावा किया है कि टीएमसी कांग्रेस के कुछ नेताओं और गोवा के निर्दलीय विधायक के संपर्क में है और अगले साल फरवरी में तय विधानसभा चुनावों के लिए उनके साथ हाथ मिलाने पर विचार कर रही है.

कांग्रेस विधायक एवं गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री लुइजिन्हो फलेरो के नाम पर चर्चा चल रही है जो टीएमसी में शामिल हो सकते हैं. हालांकि, उन्होंने ऐसी खबरों से इनकार किया है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने कहा, ‘किसी ने मुझसे संपर्क नहीं किया है. अगर मैं ऐसा कदम उठाउंगा तो पहले अपने कार्यकर्ताओं से विचार-विमर्श करुंगा.’

संवाददाताओं से बातचीत में, कांग्रेस के पूर्व विधायक एग्नेलो फर्नांडिस ने दावा किया कि कांग्रेस के भीतर बहुत नाराजगी है जिससे संभवतः पार्टी नेताओं के टीएमसी से हाथ मिलाने की अफवाहें फैली है.

फर्नांडिस ने कहा कि कांग्रेस के पिछले विधानसभा चुनावों में 17 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बावजूद वरिष्ठ नेताओं ने सरकार बनाने की अनुमति नहीं दी.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘कुछ नेताओं को पार्टी में अपमान का सामना करना पड़ रहा है.’ हालांकि, उन्होंने इस बात की पुष्टि से इनकार किया है कि कांग्रेस का कोई नेता टीएमसी में शामिल हो सकता है.


यह भी पढ़ेंः भारत के सबसे छोटे राज्य गोवा में जीत के लिए BJP और कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत क्यों झोंक रखी है?


 

share & View comments