Wednesday, 25 May, 2022
होमराजनीतिअखिलेश ने पाकिस्तान को नही चीन को बताया ‘दुश्मन’, पात्रा बोले- जो जिन्ना से करे प्यार, वो पाक से कैसे करे इनकार

अखिलेश ने पाकिस्तान को नही चीन को बताया ‘दुश्मन’, पात्रा बोले- जो जिन्ना से करे प्यार, वो पाक से कैसे करे इनकार

पात्रा ने कहा, 'इज ऑफ डूइंग बिजनेस के मामले में उत्तरप्रदेश 12 वें पायदान से छलांग लगाकर दूसरे स्थान पर आ गया है.

Text Size:

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार को समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव पर पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानने का आरोप लगाया.

पात्रा ने यहां प्रेस वार्ता में दावा किया, ‘सपा के नेता अखिलेश यादव ने एक अखबार को दिए साक्षात्कार में कहा कि वह पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानते. उन्होंने कहा कि भाजपा वोट की राजनीति के लिए पाकिस्तान को हमारा दुश्मन बताती है.’

उन्होंने कहा, ‘मैं अखिलेश जी से पूछना चाहता हूं कि कश्मीर के जिन भाई बहनों को पाकिस्तान द्वारा भेजे गए आतंकवादी मार देते हैं, क्या वे भारतीय नहीं हैं?’  पात्रा ने आरोप लगाया, ‘जिन्ना से जो करे प्यार, वो पाकिस्तान से कैसे करे इनकार. जिन्ना का नाम लेकर उतरे थे और वो आज पाकिस्तान पर पहुंच गए.’

पात्रा ने कहा, ‘आज उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विकास का संदेश दिया. वहीं, अखिलेश जी ने पाकिस्तान को दुश्मन नहीं बताया, अब आप बताएं पाकिस्तान और जिन्ना को लेकर कौन आया?’

उन्होंने यह भी आरोप लगाया, ‘सपा अध्यक्ष उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम इसलिए नहीं घोषित कर रहे हैं क्योंकि वह नाहिद हसन जैसे लोगों को टिकट दे रहे हैं. अगर मुंबई बम धमाकों के आरोपी याकूब मेमन को फांसी नहीं हुई होती तो अखिलेश याकूब को भी उम्मीदवार बना देते और कसाब को स्टार प्रचार के रूप में उतार देते. इन्होंने आतंकवादियों को छुड़वाने के लिए पूरी प्रक्रिया की थी.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

पात्रा ने दावा किया, ‘उत्तर प्रदेश का आगामी विधानसभा चुनाव भाजपा और सपा के एक्सप्रेसवे के बीच में है. भाजपा के एक्सप्रेसवे हैं गंगा एक्सप्रेसवे, पूर्वाचल एक्सप्रेसवे, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे और सपा के हैं गुंडई एक्सप्रेसवे, रंगदारी एक्सप्रेसवे और माफिया एक्सप्रेसवे. जनता को इनके बीच से चुनाव करना है.’

विभिन्न टीवी चैनलों पर ‘ओपिनियन पोल’ दिखाए जाने के खिलाफ सपा द्वारा चुनाव आयोग से शिकायत किए जाने पर पात्रा ने कहा, ‘ये लोग (सपा के नेता) चाहते हैं कि मीडिया वाले ओपिनियन पोल ना दिखाएं. मुझे पता है 10 मार्च को वे ईवीएम पर भी बरसेंगे कि ईवीएम खराब थी इसलिए हार गए.’

उन्होंने कहा कि आज उत्तर प्रदेश का 73वां स्थापना दिवस है जो सभी के लिए गर्व का विषय है. पात्रा ने दावा किया कि 2017 से पहले प्रदेश में जिस तरह के लोग सत्ता में रहे उससे इस राज्य की छवि धूमिल हो गई थी लेकिन 2017 के बाद योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में यह प्रदेश सुरक्षित और समृद्ध राज्य बन गया है.

पात्रा ने कहा, ‘इज ऑफ डूइंग बिजनेस के मामले में उत्तरप्रदेश 12 वें पायदान से छलांग लगाकर दूसरे स्थान पर आ गया है. इसके अलावा आर्थिक व्यवस्था के मामले में भी इसने छठे स्थान से द्वितीय स्थान प्राप्त कर लिया है. इससे जाहिर होता है कि उत्तर प्रदेश विकास के रास्ते पर है.’

भाषा सलीम नोमान शाहिद

शाहिद

यह खबर भाषान्यूज़ एजेंसी से ऑटो-फीडद्वारा ली गई है. इसके कंटेट के लिए दिप्रिंट जिम्मेदार नहीं है.


यह भी पढ़े: पंजाब में चुनावी मौसम आते ही नौकरियां देने का वादा, लेकिन सियासी दलों के लिए इसे पूरा करना मुश्किल क्यों है


share & View comments