Monday, 27 June, 2022
होमराजनीतिमध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान के मुख्यमंत्रियों पर अब भी सस्पेंस बरकरार

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान के मुख्यमंत्रियों पर अब भी सस्पेंस बरकरार

राजस्थान और मध्य प्रदेश में पद के दावेदारों के शक्ति प्रदर्शन के ​बीच कांग्रेस पशोपेश में, राहुल गांधी आज कर सकते हैं मुख्यमंत्रियों के नामों की घोषणा.

Text Size:

नई दिल्ली: पांच राज्यों के चुनाव नतीजे आए हुए लगभग दो दिन बीतने को हैं, लेकिन जिन तीन बड़े राज्यों में कांग्रेस को जीत हासिल हुई है, वहां अभी तक न तो विधायक दल का नेता चुना गया है और न ही मुख्यमंत्री के नाम का फैसला हो पाया है. कहा जा रहा है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ही तय करेंगे कि तीनों राज्यों में मुख्यमंत्री कौन बनेगा.

राजस्थान में बुधवार को विधायकों से लिखित में राय ली गई थी. मीडिया में प्रसारित खबरों में कहा गया कि दो तिहाई विधायक सचिन पायलट के पक्ष में हैं, हालांकि, बाद में यह फैसला राहुल गांधी पर छोड़ दिया गया.

इसी तरह मध्य प्रदेश में कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ के बीच जारी खींचतान के बीच अंतिम फैसला राहुल गांधी पर ही छोड़ दिया गया है.

छत्तीसगढ़ में पार्टी के तीन बड़े नेता हैं जिनका नाम मुख्यमंत्री पद के लिए चर्चा में हैं. भूपेश बघेल, टीएस सिंह देव और ताम्रध्वज साहू. छत्तीसगढ़ में भी राज्य ईकाई अब तक फैसला नहीं कर पाई है. वहां भी राहुल गांधी ही फैसला करेंगे कि मुख्यमंत्री की कुर्सी कौन संभालेगा.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को कहा कि वह जल्द ही मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों के नामों की घोषणा करेंगे. राहुल ने कहा, ‘हम पार्टी के लोगों, पार्टी कार्यकर्ताओं, विधायकों से राय ले रहे हैं.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने संसद के बाहर संवाददाताओं से कहा, ‘कांग्रेस पार्टी और अन्य लोग जो महसूस कर रहे हैं, उसे लेकर व्यापक रूप से जवाब मिल रहा है. निश्चित रूप से आपको जल्द ही मुख्यमंत्री देखने को मिलेगा.’

राहुल राजस्थान के मुख्यमंत्री पद के दोनों दावेदार सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नई दिल्ली पहुंचे हैं. राहुल गांधी उनसे मुलाकात करेंगे.

बुधवार को राहुल ने एक ऑडियो संदेश के माध्यम से पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को जीत की बधाई दी और उनसे मुख्यमंत्री के चयन को लेकर राय देने का आग्रह किया.

राहुल गांधी ने अपने संदेश में कहा था, ‘मैं आपसे एक महत्वपूर्ण सवाल पूछना चाहता हूं कि मुख्यमंत्री कौन होना चाहिए? कृपया सिर्फ एक नाम का जिक्र करें. मैं एकमात्र शख्स हूं जो जानेगा कि आप किसका नाम ले रहे हैं. पार्टी में कोई भी नहीं जान पाएगा. कृपया बीप के बाद बोलें.’

इस संदेश से यह साफ है कि राहुल गांधी मुख्यमंत्री के चुनाव में कार्यकर्ताओं की राय को भी तवज्जो दे सकते हैं. हालांकि, जिस तरह से दावेदारों की ओर से शक्ति प्रदर्शन हो रहा है, उसके मद्देनजर राहुल गांधी के लिए यह फैसला लेना आसान नहीं होगा.

पार्टी नेताओं के राय से ऐसा लग रहा है कि आज शाम तक ही तीनों राज्यों में मुख्यमंत्री के नामों की घोषणा हो सकती है.

share & View comments