Tuesday, 5 July, 2022
होमदेशAMU में कोरोना से 18 दिन में 16वीं मौत, कुलपति ने की ICMR से Covid वैरिएंट की जांच की मांग

AMU में कोरोना से 18 दिन में 16वीं मौत, कुलपति ने की ICMR से Covid वैरिएंट की जांच की मांग

कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने आईसीएमआर के महानिदेशक को पत्र लिखकर विश्‍वविद्यालय और उसके आसपास के वातावरण में वायरस के स्वरूपों की जांच कराने का अनुरोध किया है.

Text Size:

अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश): अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में कोरोना का कहर जारी है. विश्वविद्यालय में 16वीं मौत के बाद रविवार को वाइस चांसलर ने कोविड स्वरूप के जांच की मांग की.

कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक को पत्र लिखकर विश्‍वविद्यालय और उसके आसपास के वातावरण में वायरस के स्वरूपों की जांच कराने का अनुरोध किया है.

 

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक को आज, रविवार को भेजे गये पत्र में कुलपति प्रोफेसर मंसूर ने आशंका व्यक्त की है कि एएमयू परिसर और आसपास के इलाकों में कोरोना वायरस के एक विशेष स्वरूप से होने वाले संक्रमण के कारण मौतें हो रही हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने कहा कि जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में माइक्रोबायोलॉजी प्रयोगशाला, जोकि कोविड नामित प्रयोगशाला है, इस शहर में पाए जाने वाले स्वरूप के वायरल जीनोम अनुक्रमण को ट्रेस करने के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक एंड इंटीग्रेटेड बायोलॉजी प्रयोगशाला, नई दिल्ली को नमूने भेज रहा है.

कुलपति ने कहा कि वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने में यह कारगर होगा. उन्होंने पत्र में यह भी कहा कि पिछले 18 दिनों में कोविड से एएमयू के 16 लोगों की मौत हुई है.

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभाग के प्रमुख प्रो शादाब खान की कोरोना वायरस संक्रमण के कारण शुक्रवार को मृत्यु हो गयी. खान एएमयू के 15 वें अध्यापक थे जिनकी कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मृत्यु हुई.

एएमयू के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज इस समय ऑक्सीजन के संकट से जूझ रहा है और पिछले 12 दिनों से अस्पताल को लगातार प्रयासों के बावजूद बाहर से ऑक्सीजन का एक भी सिलेंडर नहीं मिला.

(भाषा के इनपुट्स के साथ)

share & View comments