Tuesday, 5 July, 2022
होमराजनीतिविपक्षी नेताओं से मिले चंद्रबाबू नायडू, बोले- देश बचाने के लिए हम साथ आ रहे हैं

विपक्षी नेताओं से मिले चंद्रबाबू नायडू, बोले- देश बचाने के लिए हम साथ आ रहे हैं

Text Size:

दिल्ली पहुंचे आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने राहुल गांधी, फारूक अब्दुल्ला, शरद पवार और अन्य विपक्षी नेताओं से मुलाकात की.

नई दिल्ली : 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू गुरुवार को विपक्षी के सभी बड़े नेताओं से मिले. राहुल गांधी से मिलने के बाद उन्होंने कहा हम राष्ट्र को बचाने के लिए एक साथ आ रहे हैं. हमें अतीत को भूलना होगा, लोकतंत्र की मजबूती के लिए हमें एकजुट होना होगा सभी विपक्षी पार्टियों को एक होने की जरूरत है. इस सिलसिले में नायडू पिछले एक हफ्ते के भीतर कई विपक्षी नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं.

राहुल गांधी ने आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू से मिलने के बाद कहा कि हमारी मुलाकात अच्छी थी. सार यह है कि हमें देश के भविष्य और लोकतंत्र को बचाना चाहिए. इसलिए हम काम करने के लिए एक साथ आ रहे हैं और सभी विपक्षी दलों को एकजुट होना चाहिए.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नायडू ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला से भी दिल्ली में मुलाकात की.

बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए पवार ने कहा, ‘हम सीबीआई, ईडी और भारतीय रिजर्व बैंक जैसे संस्थानों पर हमला होते देख रहे हैं और स्थिति दिन प्रति दिन बदतर होती जा रही है.’

एक हफ्ते से भी कम समय में यह दूसरी बार है जब चंद्रबाबू नायडू राजधानी में विपक्षी नेताओं से मिलने आये. बीते शनिवार को भी वे राजधानी में ही थे. तब उन्होंने बसपा की मुखिया मायावती और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल, लोकतांत्रिक जनता पार्टी के प्रमुख शरद यादव और पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा से मुलाकात की थी.

नाम न बताने की शर्त पर तृणमूल कांग्रेस के नेता ने दिप्रिंट से कहा कि ‘हमें एक बात स्पष्ट है कि अगर बीजेपी को सत्ता से बाहर करना है तो उन सभी दलों को साथ में आना होगा जो उनका विरोध करते हैं.’

share & View comments