scorecardresearch
Monday, 22 April, 2024
होमराजनीतिGujaratElectionResult: जामनगर उत्तर से रीवाबा जडेजा 19,000 वोटों से आगे, पहली बार लड़ रही हैं चुनाव

GujaratElectionResult: जामनगर उत्तर से रीवाबा जडेजा 19,000 वोटों से आगे, पहली बार लड़ रही हैं चुनाव

रवींद्र जडेजा की पत्नी रीवाबा जडेजा जीत की ओर बढ़ रही हैं. वहीं, आम आदमी पार्टी के करसन करमूर 19,047 मतों के साथ दूसरे और कांग्रेस के बिपेंद्रसिंह जडेजा 12,397 मतों के साथ तीसरे स्थान पर हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: क्रिकेटर रवींद्र जडेजा की पत्नी रीवाबा जडेजा दोपहर 12:30 तक चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक 38,867 वोट के साथ आगे चल रही हैं. रीवाबा गुजरात के जामनगर उत्तर से पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रही हैं.

आप के करसन करमूर 19,047 मतों के साथ दूसरे और कांग्रेस के बिपेंद्रसिंह जडेजा से काफी आगे हैं, जो 12,397 मतों के साथ तीसरे स्थान पर हैं. रीवाबा के ससुराल वालों ने कांग्रेस के लिए प्रचार किया था.

जामनगर (उत्तर) में 1 दिसंबर को गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में मतदान हुआ था.

भाजपा ने अपने मौजूदा विधायक मेरुभा धर्मेंद्रसिंह जडेजा को हटाकर, 2019 में पार्टी में शामिल हुई रीवाबा को जामनगर (उत्तर) सीट से मैदान में उतारा था.

32 साल की रीवाबा जूनागढ़ की रहने वाली हैं, वहीं उनके पति लेग स्पिनर रवींद्र जडेजा जामनगर के रहने वाले हैं. रवींद्र जडेजा कांग्रेस नेताओं के परिवार से आते हैं. उनकी बहन नैना जडेजा जामनगर जिला कांग्रेस महिला शाखा की प्रमुख हैं. नैना ने दिग्गज कांग्रेस नेता बिपेंद्रसिंह जडेजा के लिए भी प्रचार किया था. चुनाव प्रचार के दौरान रवींद्र जडेजा के पिता अनिरुद्ध सिंह जडेजा का लोगों से कांग्रेस को वोट देने की अपील करने वाला एक वीडियो वायरल हुआ था.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

रीवाबा कांग्रेस के एक और दिग्गज नेता हरि सिंह सोलंकी की भतीजी भी हैं.

भाजपा ने अपने मौजूदा विधायक मेरुभा धर्मेंद्रसिंह जडेजा को टिकट नहीं दिया था. उन्होंने 2017 में कांग्रेस के अहीर जीवनभाई करुभाई कुंभारवाडिया को हराकर, 58.95 फीसदी वोटों से जीत हासिल की थी. उन्हें कुल 30 प्रतिशत वोट हासिल हुए थे. इन चुनावों में बीजेपी के उम्मीदवार को जहां 84,327 वोट मिले, वहीं कांग्रेस को 43,364 वोट मिले थे. मेरुभा धर्मेंद्रसिंह जडेजा को जामनगर का पार्टी प्रभारी बनाया गया है.

2012 में इस सीट से कांग्रेस जीती थी. बीजेपी के मेरुभा धर्मेंद्रसिंह जडेजा उस वक्त कांग्रेस के साथ थे.

जामनगर (उत्तर) विधानसभा क्षेत्र जामनगर लोकसभा क्षेत्र का हिस्सा है. 2004 और 2009 को छोड़कर, जब कांग्रेस जामनगर संसदीय सीट से जीती थी, भाजपा 1989 से इस सीट को अपने पास रखने में सफल रही है.


यह भी पढ़ें: शुरुआती रुझानों के मुताबिक भाजपा को गुजरात में स्पष्ठ रूप से बहुमत, हिमाचल में करीबी लड़ाई


 

share & View comments