Sunday, 3 July, 2022
होम2019 लोकसभा चुनावकांग्रेस प्रवक्ताओं को टीवी पर बहस से दूर रहने के निर्देश

कांग्रेस प्रवक्ताओं को टीवी पर बहस से दूर रहने के निर्देश

कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्विटर पर सभी मीडिया चैनलों और इसके संपादकों से अनुरोध किया कि वे अपने शो में किसी भी कांग्रेस प्रतिनिधि को एक महीने तक शामिल न करें.

Text Size:

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव में मिली भारी हार के बीच बनी अनिश्चतता को लेकर कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को अपने प्रवक्ताओं को एक महीने के लिए न्यूज़ चैनल की बहस पर पार्टी का प्रतिनिधित्व करने से रोक दिया है. कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्विटर पर सभी मीडिया चैनलों और इसके संपादकों से अनुरोध किया कि वे अपने शो में किसी भी कांग्रेस प्रतिनिधि को शामिल न करें. वहीं यह प्रतिबंध केरल के लिए नहीं लागू है.

सुरजेवाला ने पार्टी के फैसले की घोषणा करते हुए ट्वीट किया, ‘INCIndia ने एक महीने के लिए टेलीविजन डिबेट में प्रवक्ताओं को न भेजने का फैसला किया है. सभी मीडिया चैनलों / संपादकों से अनुरोध है कि वे कांग्रेस के प्रतिनिधियों को अपने शो में न बुलाएं.’

यह तब हो रहा है जब 2017 में कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी ने 25 मई को कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में हाल ही में संपन्न 17वें आम चुनावों में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से हटने की पेशकश की. हालांकि, उनके इस्तीफे को सर्वसम्मति से सीडब्ल्यूसी द्वारा अस्वीकार कर दिया गया था.

अब तक, कई शीर्ष नेता गांधी से मिले हैं और उनसे पार्टी का नेतृत्व जारी रखने का आग्रह किया है. सूत्रों ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ सदस्यों ने 48 वर्षीय पार्टी प्रमुख को अपने फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए गंभीर प्रयास किए, वह शांत बने हुए हैं.

गौरतलब है कि आम चुनाव में कांग्रेस ने 52 सीटें जीती हैं, जो कि 2014 से महज 8 सीट ज्यादा है. वहीं दूसरी तरफ एनडीए ने बड़ी जीत हासिल की है. उसने 352 सीट के साथ सत्ता में वापसी की है. बीजेपी अकेले 303 सीटें जीती है. जो अभी तक सबसे बड़ी है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

टीवी डिबेट में हिस्सा लेने पर प्रतिबंध केरल कांग्रेस पर लागू नहीं

कांग्रेस की केरल इकाई ने गुरुवार को कहा कि राज्य के पार्टी नेताओं के टेलीविजन डिबेट्स में हिस्सा लेने पर कोई प्रतिबंध नहीं है.

इससे पहले कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक निर्देश में कहा था कि कोई भी कांग्रेसी नेता एक महीने तक टीवी डिबेट में न दिखे. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन और राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथला दोनों ने पार्टी आलाकमान से संपर्क करने के बाद कहा कि यह प्रतिबंध दक्षिणी राज्य पर लागू नहीं है.
केरल की 20 लोकसभा सीटों में से, कांग्रेस ने यहां 19 सीटें जीतीं और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने वायनाड निर्वाचन क्षेत्र से रिकॉर्ड अंतर से जीत दर्ज की. कासरगोड लोकसभा सीट से पहली बार जीतने वाले राजमोहन उन्नीथन जैसे कांग्रेस नेता टीवी डिबेट में बेहद लोकप्रिय चेहरे हैं.

share & View comments