kashmir
सेना के जवान कश्मीर में । गेट्टी
Text Size:
  • 18
    Shares

श्रीनगरः जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के शीर्ष कमांडर समेत तीन आतंकवादी मारे गए और सेना का एक जवान शहीद हो गया. मुठभेड़ में एक नागरिक की भी मौत हो गई.

पुलिस ने बताया कि मारा गया जैश का कमांडर 2017 में सीआरपीएफ के शिविर पर हुए हमले का मास्टरमाइंड था.

पुलिस सूत्रों ने कहा, ‘मारे गए तीन आतंकवादियों की शिनाख्त नसीर पंडित और उमर मीर (दोनों स्थानीय) और एक पाकिस्तानी खालिद भाई के रूप में हुई. खालिद जेईएम का शीर्ष कमांडर था और 2017 में लेथपोरा में सीआरपीएफ शिविर पर हुए हमले का मास्टरमाइंड था जिसमें पांच जवान शहीद हो गए थे.’

मारे गए नागरिक की पहचान रईस अहमद डार के रूप में हुई है. रईस उस मकान के मालिक का बेटा है जिसमें सभी आतंकवादी छिपे थे. वहीं, डार का भाई मोहम्मद यूनिस गोली लगने से घायल हो गया है. सूत्रों के अनुसार, मुठभेड़ में दो अन्य जवान घायल हुए हैं.

आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल (एसओजी) की संयुक्त टीम ने गुरुवार तड़के डोलीपोरा गांव में घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू कर गिया, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई.

मुठभेड़ स्थल के पास और आस-पास के क्षेत्रों में पत्थरबाजों और सुरक्षा बलों के बीच झड़पों की खबरें के बीच प्रशासन ने पुलवामा में कर्फ्यू लगाने के साथ-साथ मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी है.

सोशल मीडिया पर भड़काऊ तस्वीरें और पोस्ट अपलोड करने से रोकने के लिए प्रशासन ने श्रीनगर शहर में भी मोबाइल इंटरनेट की स्पीड को बहुत धीमा कर दिया है.


  • 18
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here