scorecardresearch
Monday, 24 June, 2024
होमदेशमोदी लोकनायक बिरसा मुंडा के पैतृक गांव उलिहातू जाने वाले पहले PM बने, आदिवासी परंपरा से हुआ स्वागत

मोदी लोकनायक बिरसा मुंडा के पैतृक गांव उलिहातू जाने वाले पहले PM बने, आदिवासी परंपरा से हुआ स्वागत

प्रधानमंत्री ने आज पहले रांची में भगवान बिरसा मुंडा मेमोरियल पार्क और स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय का दौरा किया और दिवंगत आदिवासी नेता को श्रद्धांजलि दी.

Text Size:

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को स्वतंत्रता सेनानी और लोक नायक बिरसा मुंडा को उनकी जयंती पर झारखंड के खूंटी जिले स्थित उनके पैतृक गांव उलिहातु में पुष्पांजलि अर्पित की.

प्रधानमंत्री ने बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और दिवंगत आदिवासी नायक को श्रद्धांजलि दी.

इसके साथ ही पीएम मोदी उलिहातु जाने वाले पहले प्रधानमंत्री बनें. पीएम मोदी का स्थानीय लोगों ने ढोल और मांदर जैसे पारंपरिक वाद्ययंत्रों की धुन पर नृत्य करते हुए गर्मजोशी से स्वागत किया.

आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद, प्रधानमंत्री खूंटी में एक प्रदर्शनी में हिस्सा लेने के लिए निकल गए. 

प्रधानमंत्री ने आज पहले रांची में भगवान बिरसा मुंडा मेमोरियल पार्क और स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय का दौरा किया और दिवंगत आदिवासी नेता को श्रद्धांजलि दी.

उनके साथ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा और झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन भी मौजूद थे.

भगवान बिरसा मुंडा की जयंती के अवसर पर अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने एक्स पर अपने पोस्ट में कहा, “भगवान बिरसा मुंडा जी को उनकी जयंती पर सादर श्रद्धांजलि. इस विशेष अवसर पर देश भर में मेरे परिवार के सदस्यों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं.” 

बिरसा मुंडा के बड़े योगदान को स्वीकार करते हुए, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 10 नवंबर, 2021 को 15 नवंबर को ‘जनजातीय गौरव दिवस’ के रूप में घोषित किया था.

इसके बाद से हर साल देश भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में इस दूरदर्शी नेता की भूमिका को याद करता है. 

पीएम मोदी खूंटी में तीसरे जनजातीय गौरव दिवस 2023 के उपलक्ष्य में एक कार्यक्रम में भी भाग लेंगे.

राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने एक्स पर अपने पोस्ट में कहा, “झारखंड अपने खनिज संसाधनों के साथ-साथ आदिवासी समाज के साहस, वीरता और स्वाभिमान के लिए प्रसिद्ध रहा है. मेरे परिवार के सदस्य यहां हैं. यहां के लोगों ने देश की प्रगति में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. मैं राज्य के स्थापना दिवस पर उन्हें अपनी शुभकामनाएं देता हूं और राज्य के उज्ज्वल भविष्य की भी कामना करता हूं.”

कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ और प्रधानमंत्री विशेष रूप से कमजोर जनजातीय समूह (PVTG) मिशन का शुभारंभ करेंगे.

आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, प्रधानमंत्री पीएम-किसान की 15वीं किस्त भी जारी करेंगे और झारखंड में कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और आधारशिला रखेंगे.

प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि पीएम मोदी का यह निरंतर प्रयास रहा है कि इन योजनाओं का लाभ समयबद्ध तरीके से सभी लाभार्थियों तक पहुंचे.


यह भी पढ़ें: दिन में AAP गुजरात प्रमुख, शाम को न्यूज़ शो के होस्ट — इसुदान गढ़वी ‘दोहरी भूमिका’ के लिए तैयार


 

share & View comments