Thursday, 30 June, 2022
होमदेशसरकारी कर्मचारियों के पुराने पेंशन के मुद्दे पर बीच का रास्ता निकालना होगा: प्रियंका गांधी

सरकारी कर्मचारियों के पुराने पेंशन के मुद्दे पर बीच का रास्ता निकालना होगा: प्रियंका गांधी

प्रियंका ने पुराना पेंशन बहाल करने की कर्मचारियों की पुरानी मांग पर पार्टी का रूख पूछे जाने पर कहा, 'पुराने पेंशन पर हमने बहुत चर्चा की है.

Text Size:

लखनऊ: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सरकारी कर्मचारियों का पुराना पेंशन बहाल करने के मुद्दे पर ‘बीच का रास्ता’ निकालने की वकालत की है.

प्रियंका ने बुधवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में पुराना पेंशन बहाल करने की कर्मचारियों की पुरानी मांग पर पार्टी का रूख पूछे जाने पर कहा, ‘पुराने पेंशन पर हमने बहुत चर्चा की है. हमें लगता है कि इसपर बीच का रास्ता निकाला जा सकता है.’

उन्होंने कहा कि सरकार को पेंशन में अपना योगदान बढ़ाना चाहिए.

गौरतलब है कि सरकारी कर्मचारी अरसे से पुराना पेंशन बहाल करने की मांग कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने अपने घोषणापत्र में पुराना पेंशन बहाल करने का वादा कर प्रदेश के करीब 13 लाख सरकारी कर्मियों को लुभाने की कोशिश की है.

2004 में केंद्र की तत्कालीन अटल बिहारी वाजपेई सरकार ने अप्रैल 2005 के बाद नियुक्त होने वाले सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन व्यवस्था को बंद करके नई योजना लागू की थी. उस समय उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी की सरकार थी.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

भाषा सलीम अर्पणा

अर्पणा

यह खबर ‘भाषा’ न्यूज़ एजेंसी से ‘ऑटो-फीड’ द्वारा ली गई है. इसके कंटेट के लिए दिप्रिंट जिम्मेदार नहीं है.


यह भी पढ़ें: ‘मैं चीनी नहीं, ताईवानी हूं’: मैनडारीन में बातचीत और दो संस्कृतियों का अंतर


 

share & View comments