Wednesday, 29 June, 2022
होमदेशनागरिकों की हत्या दुखद, कश्मीरियों को बदनाम करने की साजिश: फारूक अब्दुल्ला

नागरिकों की हत्या दुखद, कश्मीरियों को बदनाम करने की साजिश: फारूक अब्दुल्ला

इस महीने की शुरुआत में उग्रवादियों ने निशाना बनाकर 7 लोगों की हत्या कर दी थी. शनिवार को 2 लोगों की गोली मार कर हत्या की गई.

Text Size:

जम्मू: नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर में नागरिकों को निशाना बना कर हत्या करने की घटनाओं को कश्मीरियों को बदनाम करने की साजिश करार दिया है. रविवार को उन्होंने कहा है इन घटनाओं में कोई भी कश्मीरी शामिल नहीं है.

फारूक अब्दुल्ला ने कहा, ‘यह हत्याएं दुखद हैं और एक साजिश के तहत की गई हैं. इन हत्याओं में कश्मीरी शामिल नहीं हैं. यह कश्मीरियों को बदनाम करने की कोशिश है.’

अगले महीने अफगानिस्तान पर दिल्ली में नेशनल सिक्योरिटी एडवायसर लेवल की मीटिंग में पाकिस्तान को आमंत्रित करने के बारे में उन्होंने कहा, ‘भारत और पाकिस्तान के बीच सहायक संबंधों के लिए कोशिश की जानी चाहिए. हमें दोनों देशों के बीच और अधिक सहायक संबंधों की उम्मीद करनी चाहिए ताकि लोग जिंदा रह सकें.’


यह भी पढ़ें: हम भारत का हिस्सा हैं और रहेंगे, भले ही मुझे गोली मार दी जाए: फारुक अब्दुल्ला


उधर, लगातार घाटी में हो रही हत्याओं को देखते हुए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को कहा कि निर्दोष नागरिकों के एक-एक कतरा खून का बदला आतंकवादियों और उनके हमदर्दों से लिया जाएगा. उन्होंने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘आवाम की आवाज’ में कहा, ‘राज्य में शांति, सामाजिक-आर्थिक प्रगति और लोगों के व्यक्तिगत विकास को बाधित करने की कोशिश की जा रही है.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

बता दें कि 2 अक्टूबर से 8 अक्टूबर के बीच कश्मीर में उग्रवादियों ने निशाना बनाकर 7 लोंगों की हत्या कर दी. इनमें से चार अल्पसंख्यक समुदाय से ताल्लुक रखते थे. वहीं शनिवार को श्रीनगर और पुलवामा में उग्रवादियों ने दो गैर स्थानीय लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी. खबरों के मुताबिक बिहार के बांका इलाके के रहने वाले अरविंद कुमार साह को उग्रवादियों ने श्रीनगर के ईदगाह में एक पार्क के बाहर गोली मार दी. मौके पर ही अरविंद की मौत हो गई.

वहीं, पुलवामा जिले में उग्रवादियों ने उत्तर प्रदेश के एक बढ़ई सगीर अहमद पर गोली मार दी जिसमें वो गंभीर रूप से घायल हो गए अस्पताल में इलाज के दौरान उन्होने दम तोड़ा दिया.


यह भी पढ़ें: ‘हम आज भी उग्रवाद का सामना कर रहे हैं,’ फारूक अब्दुल्ला ने दिया संकेत उनकी पार्टी लेगी चुनावों में हिस्सा


 

share & View comments