news on crime
होटल अर्पित पैलेस की चौथी मंजिल पर आग पर काबू पाते दमकलकर्मी | सूरज बिष्ट
Text Size:
  • 11
    Shares

नई दिल्ली: बीते दिनों नई दिल्ली के करोल बाग स्थित अर्पित होटल में आग लग गई थी. जिसमें 17 लोगों की मौत हो गई थी. दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम ने होटल मालिक राकेश गोयल को एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस उपायुक्त (अपराध) राजेश देव ने कहा कि क्राइम ब्रांच ने शनिवार को आईजीआई एयरपोर्ट से गिरफ्तारी की. जब दिल्ली पुलिस को एक गुप्त सूचना मिली थी कि गोयल कतर जाने वाले इंडिगो की फ्लाइट 6ई 1702 में सवार हुए हैं.

होटल मालिक के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर (एलओसी) जारी होने के बाद इमिग्रेशन अधिकारियों को अलर्ट किया गया था. उनके आगमन पर उन्हें हिरासत में लिया गया और क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया. पुलिस उपायुक्त (अपराध) राजेश देव ने कहा कि गोयल को संक्षिप्त पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया है. उसे रविवार को अदालत में पेश किया जाएगा.

पुलिस जुटी है जांच में

होटल के मालिक पर आरोप है कि अनुमति नहीं मिलने के बाद भी उसने होटल ने एक फ्लोर और किचन का निर्माण कराया था. यहीं नहीं राकेश पर यह भी आरोप है कि उसने आग लगने की सूचना देने में देरी की थी. पुलिस की जानकारी के मुताबिक जिस वक्त होटल में आग लगी थी उस दिन राकेश कतर में शादी अटेंड करने गया था. पुलिस इस मामले में होटल के मैनेजर राजेंद्र और विकास को गिरफ्तार कर चुकी है. वहीं राकेश के भाई शरदेंदु जिसके नाम होटल का लाइसेंस है उसकी तलाश जारी है. पुलिस ने होटल के भवन की 3डी इमेजिंग करा आग लगने के कारणों का पता लगाने में जुटी है.

‘आप’ ने लगाया था भाजपा पर आरोप

12 फरवरी को करोल बाग स्थित अर्पित होटल में आग लगने के बाद से राजनीति भी खूब हो रही थी. होटल मालिक के गिरफ्तारी में हो रही देरी के बीच दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन ने इसके पीछे भाजपा पर आरोप लगाया था. शनिवार को मीडिया से बात करते हुए सत्येंद्र जैन ने कहा कि जिस हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई, उसमें अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है ये ताज्जुब की बात है. उन्होंने ये संभावना जताई थी कि होटल मालिक का संबंध किसी राजनीतिक दल से है. होटल मालिक शायद भाजपा से संबंध रखते हैं, इसी वजह से गिरफ्तारी नहीं हो रही है.

  (आईएएनएस इनपुट्स के साथ)

  • 11
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here