Saturday, 25 June, 2022
होमदेशकेरल और पश्चिम बंगाल में एक-एक राज्यसभा सीटों के लिए 29 नवंबर को होगा उपचुनाव

केरल और पश्चिम बंगाल में एक-एक राज्यसभा सीटों के लिए 29 नवंबर को होगा उपचुनाव

केरल कांग्रेस (एम) के जोस के मणि और तृणमूल कांग्रेस की अर्पिता घोष के इस्तीफों के कारण इन दोनों सीटों पर उपचुनाव की जरूरत पड़ी है.

Text Size:

नई दिल्ली : केरल और पश्चिम बंगाल की राज्यसभा की एक-एक सीट के लिए 29 नवंबर को उपचुनाव होंगे. निर्वाचन आयोग ने रविवार को उपचुनाव की तारीखों की घोषणा की.

केरल कांग्रेस (एम) के जोस के मणि और तृणमूल कांग्रेस की अर्पिता घोष के इस्तीफों के कारण इन दोनों सीटों पर उपचुनाव की जरूरत पड़ी है.

आयोग ने एक बयान में कहा कि चुनावों की अधिसूचना 9 नवंबर को जारी होगी जबकि मतदान 29 नवंबर को होगा.

मतों की गिनती स्थापित परंपरा के मुताबिक मतदान पूरा होने के एक घंटे बाद आरंभ होगी.

मणि ने इस साल जनवरी महीने में राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. उनका कार्यकाल जुलाई 2024 तक था.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

घोष ने भी इसी साल सितंबर महीने में राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दिया था. उनका कार्यकाल अप्रैल 2026 में पूरा होना था.

कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण आयोग ने केरल की राज्यसभा सीट पर चुनाव टाल दिया था और कहा था कि परिस्थितियों में सुधार के बाद इस बारे में फैसला करेगी.

आयोग ने इसके साथ ही तेलंगाना विधानपरिषद की छह सीटों और आंध्र प्रदेश विधानपरिषद की तीन सीटों के लिए चुनाव की भी घोष्णा की. वर्तमान सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने के कारण इन सीटों पर चुनाव हो रहा है. तेलंगाना की छह सीटें इस साल जून में जबकि आंध्र प्रदेश की तीनों सीटें मई महीने में खाली हुई थी.

आयोग ने महाराष्ट्र की एक विधानपरिषद सीट पर उपुचनाव कराने की भी घोषणा की। यह सीट वर्तमान सदस्य शरद नामदेव के निधन से खाली हुई है.

कोराना महामारी की स्थितियों में सुधार के बाद आयोग ने 29 नवंबर को इन सीटों पर चुनाव कराने की घोषणा की.

share & View comments