Thursday, 20 January, 2022
होमशासनउत्तर प्रदेश विधान परिषद के सभापति की पत्नी ने की बेटे की हत्या

उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सभापति की पत्नी ने की बेटे की हत्या

Text Size:

रविवार को कमरे में मृत पाया गया था अभिजीत, मौत की वजह बताई थी हार्ट अटैक, बाद में पूछताछ में पत्नी ने हत्या करने की बात कबूली.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सभापति रमेश यादव के छोटे बेटे अभिजीत उर्फ विवेक की रविवार को संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी. इस मामले में पुलिस ने रमेश यादव की पत्नी मीरा यादव को आज सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है. मीरा को पूछताछ के लिए रविवार को हिरासत में लिया गया था, जिस दौरान उन्होंने अपने बेटे की गला घोंटकर हत्या करने की बात कुबूल कर ली.

रमेश यादव के 23 साल के बेटे अभिजीत यादव का शव दारुल शफा के डी ब्लॉक स्थित कमरा नंबर 28 में पाया गया था. कमरे में मां और भाई भी मौजूद थे. परिवार के लोगों ने दावा किया था कि रात में सोते वक्त अभिजीत के सीने में तेज दर्द था. इसके बाद वह सो गया और सुबह वह बिस्तर पर मृत पाया गया. पुलिस ने मौत को संदिग्ध बताया था.

पहले कहा दिल का दौरा पड़ने से हुई मौत

शुरुआती रिपोर्ट में अभिजीत की मौत की वजह दिल का दौरा बताया गया था. मीरा ने परिजनों और पड़ोसियों को बताया कि उनका बेटा शनिवार देर रात नशे की हालत में घर लौटा. वह रात भर बेचैन रहा. अभिजीत ने सीने में दर्द की बात कही जिस पर उन्होंने अपने बेटे के सीने पर बाम भी लगाया.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने पड़ोसियों को बताया कि इसके बाद वह सो गया और सुबह बिस्तर पर मृत पाया गया. अभिजीत के शव को श्मशान ले जाया जा रहा था कि तभी कुछ परिवारिक मित्रों द्वारा संदेह जताने पर पुलिस ने हस्तक्षेप किया.

लखनऊ की वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नथानी ने शव का पोस्टमार्टम कराने का आदेश दिया, जिसमें मौत का कारण गला घोंटना बताया गया. रमेश यादव की दूसरी पत्नी मीरा पुलिस से पूछताछ के दौरान अपने बयान बदलती रहीं, जिससे पुलिस का शक और मजबूत हो गया.

बेटे ने नशे में किया दुर्व्यवहार 

पुलिस अधीक्षक (एसपी-ईस्ट) सर्वेश मिश्रा ने कहा कि मीरा ने पुलिस को बताया कि नशे में बेटे ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया और गुस्से में उन्होंने अभिजीत की गला घोंटकर हत्या कर दी. मीरा ने कुछ समय पहले ही राज्य के पर्यटन विभाग में अपनी नौकरी छोड़ दी थी. दारुल शफा स्थित फ्लैट में अपने दो बेटों अभिषेक यादव और अभिजीत यादव के साथ रहती थीं.

विधान परिषद के सभापति रमेश यादव ने दो शादियां की हैं. पहली पत्नी प्रेमा देवी है जो एटा जिले में रहती हैं. उनका बेटा आशीष यादव पूर्व में एटा सदर से विधायक भी रह चुका है. दूसरी पत्नी मीरा यादव हैं जो राजधानी के दारुल शफा स्थित बी ब्लाक के कमरा नंबर 137 में अपने दो बेटों अभिषेक यादव उर्फ लक्की व छोटे बेटे विवेक यादव उर्फ अभिजीत यादव उर्फ विक्की के साथ रहती हैं.

रविवार सुबह विवेक उर्फ अभिजीत अपने बिस्तर पर मृत अवस्था में पड़ा मिला था. परिजनों का कहना था है कि विवेक शनिवार रात करीब 11 बजे घर आया था. तब उसने सीने में दर्द की जानकारी मां को दी थी. मां ने सीने में मालिश कर उसे सुला दिया था. सुबह जब काफी देर तक अभिजीत नहीं उठा तो मां उसे उठाने पहुंची. शरीर में कोई हरकत न होती देख भाई को भी बुलाया. भाई ने विवेक की नब्ज जांची तो पता चला उसकी मौत हो चुकी थी.

सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौत को संदिग्ध बताया है, लेकिन परिवार की ओर से कोई शिकायत दर्ज न कराने पर शव को परिवार के हवाले कर दिया था. इंस्पेक्टर हजरतगंज राधारमण सिंह ने मौत के बाद बताया था कि विवेक दारुल शिफा के बी ब्लॉक के कमरा नंबर 137 में रहता था. शनिवार रात खाना खाने के बाद वह मां और भाई के साथ कमरे में सोया था. अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद हार्ट अटैक के चलते उसकी मौत हो गई.

(समाचार एजेंसी आईएनएस से इनपुट के साथ)

share & View comments