scorecardresearch
Tuesday, 27 February, 2024
होमचुनाव'EC ने चर्च के लोगों की भावनाओं का रखा ख्याल', मिज़ोरम में 3 दिसंबर को मतगणना टालने पर बोले अधिकारी  

‘EC ने चर्च के लोगों की भावनाओं का रखा ख्याल’, मिज़ोरम में 3 दिसंबर को मतगणना टालने पर बोले अधिकारी  

रविवार को चर्च की प्रार्थना के कारण मतगणना को 4 दिसंबर के लिए टाल दिया गया है. इसके लिए विभिन्न सामाजिक और राजनीतिक संगठनों ने गुजारिश की थी.

Text Size:

आइज़ोल (मिज़ोरम) : मिज़ोरम विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती स्थगित होने के बाद, मुख्य निर्वाचन अधिकारी मधुप व्यास ने कहा कि भारत का चुनाव आयोग सामाजिक संगठनों और राजनीतिक दलों के अनुरोध पर सहमत हुआ, क्योंकि “रविवार चर्च की प्रार्थनाओं के लिए समर्पित है.”

जैसा कि भारत के चुनाव आयोग ने वोटों की गिनती को 4 दिसंबर (सोमवार) को पुनर्निर्धारित किया है, सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए राज्य में तैयारियां जोरों पर हैं.

मधुप व्यास ने शनिवार को कहा, “मूल कार्यक्रम के अनुसार, सभी पांच राज्यों के लिए वोटों की गिनती 3 दिसंबर को होनी थी, जो कि उस दिन रविवार है. नागरिक संगठनों और राजनीतिक दलों ने ईसीआई से अनुरोध किया था कि लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए, रविवार का दिन चर्च की प्रर्थनाओं को समर्पित किया जाए, उन्होंने ईसीआई से अनुरोध किया था कि मतगणना की तारीख बदली जाए.”

उन्होंने कहा, “कल, ईसीआई ने सामाजिक संगठनों और राजनीतिक दलों के अनुरोध पर सहमति व्यक्त की और गिनती की तारीख एक दिन आगे बढ़ा दी है. अन्य चार राज्यों में रविवार को वोटों की गिनती होगी. हम अगले दिन यानी सोमवार 4 दिसंबर को यहां वोटों की गिनती करेंगे.”

चुनावी तैयारियों पर व्यास ने कहा, “ईसीआई के दिशा-निर्देशों के अनुसार, 7 नवंबर को मतदान के बाद, सभी ईवीएम को निर्दिष्ट जगहों पर सील कर दिया गया था, जिनकी सुरक्षा सीएपीएफ द्वारा की जाती है.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने कहा, “मतगणना के लिए, हमारे पास 40 काउंटिंग हॉल हैं. पहले, हमारे पास 22 सामान्य पर्यवेक्षक थे…ईसीआई ने 40 काउंटिंग पर्यवेक्षकों को तैनात किया है… ये 40 काउंटिंग हॉल 13 स्थानों पर हैं. सभी जिलों में, ज्यादातर एक ही स्थान, जिला मुख्यालय पर है…सभी 13 स्थानों को वेबकास्टिंग और वीडियोग्राफी से कवर किया जाएगा. हमने 27 नवंबर को पूरी ड्रेस रिहर्सल की थी.”

राज्य निर्वाचन विभाग ने बताया कि सोमवार को होने वाली मतगणना के लिए सभी तैयारियां और व्यवस्थाएं कर ली गई हैं. मतगणना के दिन के पुनर्निर्धारण पर, ईसीआई ने शुक्रवार को कहा कि मिज़ोरम में गिनती के लिए तारीख को संशोधित किया गया है क्योंकि मतगणना के दिन को बदलने के लिए राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से कई अभ्यावेदन प्राप्त हुए थे.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी, मिज़ोरम के कार्यालय के अनुसार, मतगणना राज्यभर में 13 केंद्रों और 40 मतगणना हॉलों में की जाएगी. राज्यभर के 40 मतगणना हॉलों में 399 ईवीएम टेबल और 56 पोस्टल बैलेट टेबल होंगे. राज्य निर्वाचन विभाग के अनुसार, लगभग 4000 कर्मचारी वोटों की गिनती में शामिल होंगे.


यह भी पढ़ें : विधायकों की खरीद-फरोख्त पर दिग्विजय सिंह बोले- अब हमारे पास कोई सिंधिया नहीं बचा, इसलिए कोई ‘गद्दार’ नहीं


 

share & View comments