Monday, 28 November, 2022
होमसमाज-संस्कृतिकुंभ में कांग्रेस सेवादल ने लगाया कैंप, राहुल गांधी भी आएंगे डुबकी लगाने

कुंभ में कांग्रेस सेवादल ने लगाया कैंप, राहुल गांधी भी आएंगे डुबकी लगाने

सेवादल को आरएसएस के मुकाबले यूपी में खड़ा करने का हो रहा है प्रयास, कांग्रेस इसे जनसम्पर्क और सॉफ्ट हिंदुत्व की ब्रैंडिंग के तौर पर पेश करेगी.

Text Size:

प्रयागराज: भाजपा सरकार प्रयागराज अर्द्धकुंभ की जिस तरह से ‘महाकुंभ’ के तौर पर ब्रैंडिंग कर रही है उसका पाॅलिटिकल माइलेज भाजपा न ले सके इसको लेकर यूपी में विपक्षी दल रणनीति बनाने में जुट गए हैं. कांग्रेस के फ्रंटल संगठन सेवादल ने कुंभ में कैंप लगाया है. इसके जरिए लोगों के मुफ्त इलाज व भोजन की व्यवस्था भी है. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी फरवरी में कुंभ जा सकते हैं. पार्टी सूत्रों का कहना है कि जल्द ही इसकी घोषणा की जाएगी.

लोगों की मदद करने की होड़

कुंभ में सेवादल के कैंप में श्रद्धालुओं के लिए प्राथमिक चिकित्सा, खोये हुए लोगों को परिवार से मिलाना, कल्पवासियों आदि को राशन वितरण में कोई दिक्कत आ रही हो तो उन्हें सहायता देना शामिल है.

कांग्रेस के विधायक अजय कुमार लल्लू ने बताया कि प्रयागराज में आयोजित होने वाले अर्धकुंभ में सेवादल ने सहायता शिविर लगाया है. कांग्रेस ने हर बार कुंभ आयोजन में अपना पूरा सहयोग दिया है. बीजेपी इस आयोजन के जरिये अपनी ब्रैंडिंग करने में ज्यादा जुटी है.

आ चुके हैं राजीव गांधी और सोनिया गांधी भी

प्रदेश कांग्रेस सेवादल के मुख्य संगठक डॉ. प्रमोद पाण्डेय के मुताबिक, हर बार माघ मेला, अर्धकुंभ व कुंभ में सेवादल का कैंप लगता है, लेकिन इस बार चर्चा ज्यादा हो रही है. प्रयागराज में हमारे कैंप में 1989 में राजीव गांधी व साल 2000 में सोनिया गांधी भी आ चुकी हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इस कैंप में 150-200 कार्यकर्ता हर समय रहते हैं, जो लोगों की मदद करते हैं. श्रद्धालुओं को खाना भी खिलाया जाएगा. इसके अलावा पिछली बार की ही तरह कंबल भी बांटे जाएंगे. इसके अलावा हेल्थ कैंप भी लगाया जा रहा है.

कांग्रेस प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने बताया कि पार्टी हमेशा यह कार्यक्रम करती रही है. इसमें कुछ भी नया नहीं है, लेकिन हमने कभी धर्म को वोट से नहीं जोड़ा, कांग्रेस सभी धर्मों और उनकी मान्यताओं का सम्मान करती रही है और आगे भी करती रहेगी. यह कार्यक्रम पूर्व की तरह सेवा दल विभाग द्वारा संपन्न कराया गया.

सेवादल को आरएसएस के मुकाबले खड़ा करने की कोशिश

कुंभ में आरएसएस व वीएचपी की ओर से भी तमाम तरह के कैंप लगाए गए हैं, जिनमें श्रद्धालुओं की सहायता की जा रही है. इस अर्धकुंभ को एक तरफ भाजपा सरकार अपनी ब्रैंडिंग के तौर पर इस्तेमाल कर रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस इसे जनसम्पर्क और सॉफ्ट हिंदुत्व की ब्रैंडिंग के तौर पर पेश करेगी. इसी तरह अन्य धार्मिक आयोजनों में पार्टी की सक्रियता बढ़ेगी. सेवादल को आरएसएस के मुकाबले खड़ा करने का भी ये प्रयास है.

सूत्रों के मुताबिक प्रयागराज में होने वाली अपनी रैली के दिन राहुल गांधी कुंभ आएंगे.

अन्य दल भी रणनीति बनाने में जुटे

बीजेपी इस कुंभ का पाॅलिटिकल माइलेज न ले इसको लेकर कांग्रेस के अलावा सपा, बसपा व आरएलडी भी जुट गए हैं. सपा से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि पार्टी कार्यकर्ताओं को अखिलेश यादव की ओर से श्रद्धालुओं की पूरी मदद करने के निर्देश दिए हैं. हालांकि, अखिलेश कुंभ में स्नान करने जाएंगे या नहीं इस पर अभी कोई घोषणा नहीं हुई है.

share & View comments