Thursday, 8 December, 2022
होम50 शब्दों में मतगरबा में शामिल होने वाले मुसलमानों पर आक्रोश बेवजह, धार्मिक सिलोस में रहने से भारत को नुकसान होगा

गरबा में शामिल होने वाले मुसलमानों पर आक्रोश बेवजह, धार्मिक सिलोस में रहने से भारत को नुकसान होगा

दिप्रिंट का 50 शब्दों में सबसे तेज़ नज़रिया.

Text Size:

हिंदू गरबा कार्यक्रमों में शामिल होने वाले मुसलमानों को लेकर आक्रोश भारत के लिए ठीक नहीं है. ईद, दीवाली, दशहरा, क्रिसमस को लेकर आपसी पारस्परिकता का रास्ता बनाना है. 21वीं सदी के राष्ट्र-निर्माण के दौर में धार्मिक सिलोस में रहने वाले समुदाय भारत की कहानी को नुकसान पहुंचाएंगे.

 

 

share & View comments