Monday, 27 June, 2022
होमविदेशयूक्रेन ने विदेशी समर्थकों से की अपील, कहा- रूस के खिलाफ जंग में खुद से करें मदद

यूक्रेन ने विदेशी समर्थकों से की अपील, कहा- रूस के खिलाफ जंग में खुद से करें मदद

शनिवार को किये गए एक ट्वीट में यूक्रेन के शासकीय निकाय ने रूसी हमले का मुकाबला करने के लिए विदेशियों का समर्थन मांगा. इंटरनेशनल लीजन ऑफ यूक्रेन के लिए भर्ती प्रक्रिया का विवरण देते हुए एक वेबसाइट भी बनाई गई है.

Text Size:

नई दिल्ली: यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने सभी विदेशी नागरिकों से इंटरनेशनल लीजन ऑफ यूक्रेन (यूक्रेन की अंतर्राष्ट्रीय सेना) के एक हिस्से के रूप में रूस के खिलाफ चल रही जंग में स्वयंसेवकों के रूप में शामिल होने का आह्वान किया है.

शनिवार को पोस्ट किये एक ट्वीट में, यूक्रेन के इस शासकीय निकाय ने लिखा है, ‘यूक्रेन सभी विदेशी नागरिकों से यूरोप में शांति और लोकतंत्र के लिए लड़ी जा रही अपनी लड़ाई में शामिल होने का आह्वान करता है. अब कार्रवाई करने का समय है! इंटरनेशनल लीजन ऑफ यूक्रेन में शामिल हों और हमारे देश, यूरोप और पूरी दुनिया की रूस (इस ट्वीट में रूस के झंडे को दिखाया गया है) की आक्रामकता से रक्षा करने में हमारी मदद करें.’

यह ट्वीट यूक्रेन द्वारा रूस के खिलाफ अपनी लड़ाई में शामिल होने के लिए विदेशियों से पहले किये गए आह्वान का फॉलो-अप है.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, यूक्रेन ने पहली बार 27 फरवरी को विदेशी समर्थन का आह्वान किया था, क्योंकि तब उसने संभावित रूसी आक्रमण का मुकाबला करने के लिए जनशक्ति (मैनपावर) की आवश्यकता का अनुमान लगाया था. इस खबरों में कहा गया है कि यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय द्वारा पिछले महीने इस पहल को शुरू किये जाने के एक दिन के भीतर ही हजारों प्रविष्टियां मिली थीं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इन खबरों में यह भी दावा किया गया है कि यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की 16,000 विदेशी स्वयंसेवकों के शामिल होने की उम्मीद कर रहे हैं.


यह भी पढ़े: यूक्रेन को मिलेगा स्टारलिंक सिस्टम का एक और बैच, राष्ट्रपति जेलेंस्की ने एलन मस्क को किया शुक्रिया


इंटरनेशनल लीजन ऑफ यूक्रेन में शामिल होना

शनिवार को यूक्रेन की रक्षा इकाई द्वारा शुरू की गई एक वेबसाइट में इस बारे में स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि विदेशी नागरिक उस देश में जाने के लिए कैसे आवेदन कर सकते हैं और कैसे उस सुरक्षा बल का हिस्सा बनने के योग्य हो सकते हैं, जिसका नाम ‘इंटरनेशनल लीजन ऑफ यूक्रेन’  है.

यूक्रेन के राष्ट्रपति प्रशासन के अनुसार, रूसी नागरिकों को छोड़कर किसी भी व्यक्ति का यूक्रेन के मकसद का समर्थन का प्रयास करने और इस सेना में भर्ती होने हेतु स्वागत है, भले ही उसके पास युद्ध का कोई पूर्व-अनुभव हो या न हो.

इस साइट में कहा गया है, ‘राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने इंटरनेशनल लीजन ऑफ यूक्रेन बनाई है, जिसमें ऐसे विदेशी नागरिक शामिल हैं जो रूसी आधिपत्य ज़माने वालों के खिलाफ प्रतिरोध में शामिल होना चाहते हैं और वैश्विक सुरक्षा के लिए लड़ना चाहते हैं.’

इस वेबसाइट में बताया गया है कि इस सुरक्षा बल में शामिल होने के इच्छुक किसी भी व्यक्ति को पहले अपने देश में स्थित यूक्रेनी दूतावास का दौरा करना चाहिए या फिर ईमेल अथवा फोन कॉल के माध्यम से उन तक पहुंचना चाहिए. यह वेबसाइट दुनिया भर में यूक्रेनी राजनयिक मिशनों की पूरी सूची प्रदान करती है, जहां संभावित रंगरूट संपर्क हेतु जा सकते हैं.

इसके बाद इन स्वयंसेवक को उस गियर के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी जो उनके पास होनी चाहिए और यूक्रेनी सैन्य अताशे के साथ उनका एक साक्षात्कार भी आयोजित किया जाएगा.

राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा है , ‘यह अनुशंसा की जाती है कि इस लीजन में शामिल लोग लड़ाकू गियर – जैसे कि जंगी पोशाक (फटीग)  … या उपकरण, अथवा एक हेलमेट, बख्तरबंद बनियान, और इसी तरह की अन्य चीजें – प्राप्त करें.’

मीडिया में आ रहीं ख़बरों में यह भी स्पष्ट किया गया हैं कि यह सेवा पूरी तरह से कानूनी और आधिकारिक है तथा सभी रंगरूटों को यूक्रेन की यात्रा के लिए एक विशेष वीजा दिया जाएगा. रंगरूटों को यूक्रेन में आने पर सैन्य सेवा के एक अनुबंध पर हस्ताक्षर करना होगा, जिसके बाद वे रूस से लड़ने वाली सेना में शामिल हो सकेंगे.

(इस खबर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.)


यह भी पढ़े: 1962 से लेकर यूक्रेन तक- भारत की गुटनिरपेक्ष नीति के लिए तीन सबक


share & View comments