Sunday, 26 June, 2022
होमगो टू पाकिस्तानसत्ता से सड़क पर उतरे इमरान खान, कहा- अब और खतरनाक होकर लौटूंगा

सत्ता से सड़क पर उतरे इमरान खान, कहा- अब और खतरनाक होकर लौटूंगा

इमरान खान ने आरोप लगाया कि भारत और इजरायल सत्ता परिवर्तन का जश्न मना रहा है और उन्होंने पाकिस्तान की अदालत के देर रात सुनवाई करने पर भी सवाल उठाए.

Text Size:

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री पद से हटाए जाने के बाद इमरान खान चुप होकर नहीं बैठे हैं. वो अब स्ट्रीट पॉलिटिक्स के अपने पुराने कदम पर आगे बढ़ चले हैं. तभी उन्होंने धमकी दी कि वो अब ‘ज्यादा खतरनाक’ होंगे.

प्रधानमंत्री पद गंवाने के बाद पाकिस्तान के पेशावर में बुधवार को पहली सार्वजनिक रैली में खान ने कहा, ‘मैं जब सरकार में था तब खतरनाक नहीं था लेकिन अब मैं ज्यादा खतरनाक हो जाऊंगा.’

वाशिंगटन पोस्ट ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा, ‘सियासी वापसी के लिए इमरान खान ज़मीन तैयार कर रहे हैं वहीं पेशावर में देर रात हुई रैली में हज़ारों समर्थक नज़र आए.’

रिपोर्ट में कहा गया, ‘रैली के लिए खान के समर्थकों ने घंटों इंतज़ार किया, झंडे फहराए और जोर-जोर से नारे लगाए.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

कुछ दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा था कि पाकिस्तान एक स्वतंत्र और संप्रभु मुल्क के तौर पर बना था.


यह भी पढ़ें: ORF स्टडी में खुलासा- मोदी के फॉलोअर्स और ट्वीट्स राहुल से ज़्यादा, लेकिन कम हैं इंगेजमेंट्स


‘आज़ादी के लिए लड़ाई’

इमरान खान ने कहा था कि पाकिस्तान 1947 में एक आज़ाद मुल्क बना था लेकिन आज़ादी की लड़ाई सत्ता परिवर्तन में लगे विदेशी षड्यंत्रकारियों के खिलाफ आज शुरू हुई है. उन्होंने कहा था, ‘देश के लोगों ने हमेशा मुल्क के लोकतंत्र और संप्रभुता को बनाए रखा है’.

शहबाज़ शरीफ सरकार को इमरान खान ने ‘इंपोर्टिड’ करार दिया और कहा कि इसे मंजूर नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस बार लोगों ने सत्ता परिवर्तन का जश्न नहीं मनाया है और इसके खिलाफ बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन किया.

पेशावर की रैली में खान ने कहा, ‘मुल्क पर नए सरकार को थोपकर अमेरिका ने पाकिस्तान की बेइज्जती की है. यूएसए ने जुल्फिकार अली भुट्टो के खिलाफ षड्यंत्र किया था लेकिन पाकिस्तान अब 1970 का मुल्क नहीं है. यह नया पाकिस्तान है.’

खान ने ये भी आरोप लगाया कि भारत और इजरायल सत्ता परिवर्तन का जश्न मना रहा है और उन्होंने पाकिस्तान की अदालत के देर रात सुनवाई करने पर भी सवाल उठाए.


यह भी पढ़ें: दिल्ली में कोविड के बढ़ते मामलों पर मनीष सिसोदिया ने कहा- चिंता की कोई बात नहीं है


‘स्ट्रीट पॉलिटिक्स जानते हैं इमरान खान’

इमरान खान की पेशावर में हुई रैली में काफी बड़ी संख्या में लोगों का हुजूम देखा गया, जहां एक युवा लड़की ने कहा, ‘आई लव यू इमरान खान’. ये वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है.

पाकिस्तानी पत्रकार अनस मलिक ने कहा कि इमरान खान 22 सालों तक विपक्ष में रहे हैं और 3.5 साल सत्ता में रहे. उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री विपक्ष में रहना जानते हैं और स्ट्रीट पॉलिटिक्स करना भी खूब समझते हैं.

पेशावर की बड़ी रैली को दिखाती हुई एक वीडियो क्लिप पर एक ट्विटर यूज़र सैयद अज़ान शब्बार ने कहा, ‘इमरान खान सही कह रहे हैं. सरकार से जाने के बाद वो ज्यादा खतरनाक हैं और ये साफ तौर से दिख रहा है.’

पूर्व राजनयिक ज़फर हिलाली ने रैली पर टिप्पणी करते हुए कहा, ‘खूबसूरत नज़ारा. इमरान खान का पेशावर जलसा.’

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के सदस्य शिरीन मज़ारी ने कहा, ‘पेशावर का शानदार जलसा. यह महज शुरुआत है. हम ‘क्राइम मिनिस्टर’ को मंजूर नहीं करेंगे जिसने यूएस की मदद से सत्ता में आया है. चुनाव ही एकमात्र रास्ता. लोगों को यह फैसला करने दें.’

(इस खबर को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)


यह भी पढ़ें: इमरान खान की पूर्व पत्नी ने कहा- उन्हें द कपिल शर्मा शो में शामिल हो जाना चाहिए


 

share & View comments