Wednesday, 29 June, 2022
होमविदेशअफगानिस्तान के मामले में इमरान खान और शी जिनपिंग की एक राय, मानवीय-आर्थिक सहायता भेजने की अपील की

अफगानिस्तान के मामले में इमरान खान और शी जिनपिंग की एक राय, मानवीय-आर्थिक सहायता भेजने की अपील की

कतर में एक उच्चस्तरीय बैठक में तालिबान के प्रतिनिधियों के साथ चीन के विदेश मंत्री वांग यी की मुलाकात के एक दिन बाद दोनों नेताओं ने फोन पर बात की.

Text Size:

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने मंगलवार को पहली बार संयुक्त रूप से अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की कि तालिबान शासित अफगानिस्तान को तुरंत मानवीय एवं आर्थिक सहयोग मुहैया कराएं, जहां सर्दियों से पहले आवश्यक सामान की काफी किल्लत है.

प्रधानमंत्री कार्यालय ने बयान जारी कर कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान की राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ टेलीफोन पर हुई वार्ता के दौरान दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की.

इसने कहा, ‘दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान की स्थिति पर चर्चा की. उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की कि अफगानिस्तान के लोगों को तुरंत मानवीय एवं आर्थिक सहायता उपलब्ध कराएं ताकि उनकी दिक्कतें दूर हो सकें, अस्थायित्व रूके और देश के पुनर्निर्माण में मदद मिले.’

कतर में एक उच्चस्तरीय बैठक में तालिबान के प्रतिनिधियों के साथ चीन के विदेश मंत्री वांग यी की मुलाकात के एक दिन बाद दोनों नेताओं ने फोन पर बात की.

चीन ने सितंबर में 3.1 करोड़ डॉलर की मदद दी थी, जिसमें युद्धग्रस्त राष्ट्र को खाद्य पदार्थों एवं स्वास्थ्य सामग्री की आपूर्ति शामिल है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इसी तरह पाकिस्तान ने पड़ोसी देश को खाद्य तेल और दवाएं भेजी थीं.


यह भी पढ़े: खाली शेख़ी’ या ‘कड़ा रुख़’? चीन का नया जमीनी सीमा कानून और भारत के लिए उसका मतलब


 

share & View comments