Saturday, 4 December, 2021
होमविदेशनहीं सुधरे तो मार्च तक यूरोप में कोविड से होगी और 7 लाख लोगों की मौत, WHO ने दी चेतावनी

नहीं सुधरे तो मार्च तक यूरोप में कोविड से होगी और 7 लाख लोगों की मौत, WHO ने दी चेतावनी

WHO यूरोप में लोगों से टीका लगवाने और उचित साफ-सफाई का ध्यान रखने का अनुरोध करते हुए आपस में एक निश्चित दूरी बनाकर रखने को कहा है, ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके.

Text Size:

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के यूरोप ऑफिस ने कहा है कि पूर्वानुमानों के मुताबिक इस महाद्वीप के 53 देशों में अगले वसंत यानी मार्च तक कोरोनावायरस महामारी से सात लाख और लोगों की मृत्यु हो सकती है, जिससे संक्रमण से मौत के कुल मामले 20 लाख से अधिक हो सकते हैं.

डब्ल्यूएचओ यूरोप का कार्यालय डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में है. उसने संक्रमण से सुरक्षा के उपायों में कमी और टीकों से मामूली बीमारियां सामने आने के बढ़ते साक्ष्यों का हवाला दिया है और कहा कि कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों, 60 साल से अधिक उम्र के लोगों तथा स्वास्थ्य कर्मियों समेत सबसे अधिक संवेदनशील आबादी को टीके की बूस्टर खुराक देने में प्राथमिकता दी जानी चाहिए.

हालांकि, जिनेवा में डब्ल्यूएचओ के अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय ने साल के अंत में बूस्टर खुराकों के उपयोग पर रोक की बार-बार वकालत की है ताकि उन अनेक विकासशील देशों के लिए खुराक उपलब्ध कराई जा सकें, जहां अमीर देशों की तुलना में कोविड रोधी टीकों की कमी रही है.

डब्ल्यूएचओ यूरोप में लोगों से टीका लगवाने तथा उचित साफ-सफाई का ध्यान रखने का अनुरोध करते हुए आपस में एक निश्चित दूरी बनाकर रखने को कहा है, ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके.

डब्ल्यूएचओ यूरोप के क्षेत्रीय निदेशक डॉ क्लूजे ने एक बयान में कहा, ‘आज पूरे यूरोप और मध्य एशिया में कोविड-19 की स्थिति बहुत गंभीर है. हमारे सामने आने वाली सर्दियों की चुनौती है, लेकिन हमें उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए क्योंकि हम सब-सरकारें, स्वास्थ्य अधिकारी और आम लोग महामारी पर काबू पाने में निर्णायक कार्रवाई कर सकते हैं.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें


य़ह भी पढ़ें: पोस्टमार्टम पर मोदी सरकार का नया नियम कैसे परिवारों का इंतजार घटाएगा, अंगदान को भी मिलेगा बढ़ावा


इज़राइल ने बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू किया

इज़राइल ने पांच साल से 11 साल की उम्र के बच्चों का कोविड-रोधी वैक्सीनेशन शुरू कर दिया है.

इज़राइल हाल ही में कोविड महामारी की चौथी लहर से उबरा है, और पिछले कुछ हफ्तों से संक्रमण के दैनिक मामले भी अपेक्षाकृत कम आ रहे हैं, लेकिन स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि नए संक्रमण से ज्यादातर बच्चे और किशोर प्रभावित हुए हैं.

उपचाराधीन मरीजों में से लगभग आधे मरीज पांच से 11 वर्ष की आयु के बच्चे हैं. अधिकारियों को उम्मीद है कि नए वैक्सीनेशन अभियान संक्रमण को कम करने में मदद करेगा और शायद एक नई लहर पर विराम भी लगाएगा.

इज़राइली मीडिया के अनुसार, इस आयु वर्ग के लिए शुरू टीकाकरण के पहले दिन टीके लगवाने वालों की संख्या कम रही है. अभिभावकों को अपने बच्चों के टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने के वास्ते इजरायली प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट के आज ही खुद अपने बेटे के साथ पहुंचने की उम्मीद है.

नब्बे लाख से अधिक आबादी वाले इज़राइल में कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद से 13 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं और 8,100 से अधिक मौत हुई हैं.


यह भी पढ़ें: स्टडी में खुलासा, लक्षण वाले कोविड रोगियों के लिए कोवैक्सीन सिर्फ 50 फीसदी ही प्रभावी


 

share & View comments