scorecardresearch
Monday, 22 July, 2024
होमविदेशचीन की कोर्ट ने कनाडा के व्यक्ति की मौत की सजा के खिलाफ अपील खारिज की

चीन की कोर्ट ने कनाडा के व्यक्ति की मौत की सजा के खिलाफ अपील खारिज की

चीन की अदालत ने मादक पदार्थ मामले में सजा के खिलाफ कनाडा के एक व्यक्ति की अपील मंगलवार को खारिज कर दी.

Text Size:

बीजिंग (चीन): 10 अगस्त (एपी) चीन की अदालत ने मादक पदार्थ मामले में सजा के खिलाफ कनाडा के एक व्यक्ति की अपील मंगलवार को खारिज कर दी. कनाडा के वैंकुवर में हिरासत में ली गई प्रौद्योगिकी कंपनी हुआवेई की एक अधिकारी की रिहाई को लेकर दबाव बनाने की कोशिश के तहत इस व्यक्ति की सजा को मृत्युदंड में बदल दिया गया था.

रॉबर्ट शेलेनबर्ग को मादक पदार्थ की तस्करी के जुर्म में नवंबर 2018 में सजा सुनायी गई थी. हुआवेई की मुख्य वित्तीय अधिकारी (सीएफओ) मेंग वानझोऊ को हिरासत में लिए जाने के बाद व्यक्ति की सजा को मृत्युदंड में बदल दिया गया.  वानझोऊ को, ईरान के साथ संभावित कारोबारी सौदे को लेकर अमेरिका द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद हिरासत में लिया गया था.

लियाओनिंग प्रांत की एक अदालत ने शेलेनबर्ग की अपील को खारिज कर दिया. अदालत ने एक बयान में कहा कि यह सजा बिल्कुल उचित है और निचली अदालत ने सभी कानूनी प्रक्रिया का पालन किया. मामले को पुनर्विचार के लिए चीनी सुप्रीम कोर्ट के पास भेजा गया है.


यह भी पढ़े: पाकिस्तान में भीड़ ने की थी मंदिर में तोड़फोड़, मरम्मत के बाद हिंदुओं को सौंपा


 

चीन की सरकार ने मेंग की रिहाई को लेकर ओटावा पर दबाव डालने के प्रयास के तहत बिना कोई विस्तृत जानकारी दिए जासूसी के आरोप में कनाडा के एक पूर्व राजनयिक माइकल कोवरिग और एक उद्यमी माइकल स्पावर को भी गिरफ्तार किया. कनाडा के दो अन्य नागरिकों फैन वेई और जू वेइहोंग को भी 2019 में मादक पदार्थ के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई जिसके कारण चीन और कनाडा के बीच संबंध बिगड़ गए थे.

अमेरिका चाहता है कि ईरान के साथ लेनदेन के संबंध में हांगकांग में बैंकों से झूठ बोलकर व्यापार प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोपों का सामना करने के लिए हुआवेई की कार्यपालक अधिकारी मेंग को प्रत्यर्पित किया जाए. मेंग कंपनी के संस्थापक की बेटी हैं. मेंग को प्रत्यर्पित किया जाना चाहिए या नहीं, इस पर एक कनाडाई न्यायाधीश अंतिम दलीलें सुनने वाले हैं.  चीन ने कनाडा से आयात भी कम कर दिया है.


यह भी पढ़े: PM मोदी ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता, समुद्री सुरक्षा की मजबूती पर दिया जोर


 

share & View comments