Thursday, 26 May, 2022
होमखेलबाबर आजम, जो रूट, लिजेले ली ने आईसीसी के शीर्ष पुरस्कार जीते

बाबर आजम, जो रूट, लिजेले ली ने आईसीसी के शीर्ष पुरस्कार जीते

Text Size:

दुबई, 24 जनवरी ( भाषा ) पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को सोमवार को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ आईसीसाी एक दिवसीय क्रिकेटर चुना गया जबकि इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट सर्वश्रेष्ठ टेस्ट खिलाड़ी बने जिन्होंने भारतीय आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को पछाड़कर यह पुरस्कार हासिल किया ।

आजम ने 2021 में छह मैचों में 67 . 50 की औसत से 405 रन बनाये ।

आजम ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2 . 1 से मिली जीत में 228 रन बनाये और दोनों मैचों में जीत में प्लेयर आफ द मैच चुने गए ।

पहले वनडे में उन्होंने शतक लगाया और आखिरी वनडे में 82 गेंद में 94 रन की पारी खेली ।

इंग्लैंड के खिलाफ 0 . 3 से मिली हार में पाकिस्तान के लिये अकेले वही डटकर बल्लेबाजी करते रहे । उन्होंने तीन मैचों में 177 रन बनाये लेकिन दूसरे छोर से उन्हें सहयोग नहीं मिल सका ।

आखिरी वनडे में उन्होंने इमामुल हक के साथ 92 रन की साझेदारी की । उन्होंने पहले 50 रन 72 गेंद में और अगले 50 रन 32 गेंद में पूरे किये जो इस साल उनका दूसरा शतक था ।

रूट ने पिछले साल बेहतरीन प्रदर्शन किया और एक कैलेंडर वर्ष में 1700 से अधिक टेस्ट रन बनाने वाले दुनिया के तीसरे खिलाड़ी बन गए। उनसे पहले मोहम्मद युसूफ और सर विवियन रिचडर्स ही यह कमाल कर चुके हैं ।

एशिया में हो या अपने देश में और किसी भी गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ , रूट ने जबर्दस्त बल्लेबाजी की है । श्रीलंका के खिलाफ गॉल टेस्ट में उनकी पारी हो या भारत के खिलाफ चेन्नई या लॉडर्स पर , सभी आधुनिक दौर की बेहतरीन पारियों में से एक है ।

उन्होंने गेंदबाजी करते हुए 14 विकेट भी लिये । भारत के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में उन्होंने 2018 रन बनाये और भारतीय स्पिनरों का उनके अनुकूल हालात में डटकर सामना किया ।

इस वर्ग में अश्विन, काइल जैमीसन और दिमुथ करूणारत्ने भी नामित थे ।

दक्षिण अफ्रीका की सलामी बल्लेबाज लिजेले ली को सर्वश्रेष्ठ वनडे क्रिकेटर चुना गया जिन्होंने 2021 में इस प्रारूप में सर्वाधिक रन बनाये ।

भारत के खिलाफ 4 . 1 से मिली जीत में वह सूत्रधार रही और एक शतक समेत 288 रन बनाकर प्लेयर आफ द सीरिज बनी । वेस्टइंडीज के खिलाफ भी उन्होंने इस फॉर्म को बरकरार रखा ।

वहीं दक्षिण अफ्रीका के मराइस इरास्मस को तीसरी बार वर्ष का सर्वश्रेष्ठ अंपायर चुना गया । वह 2016 और 2017 में भी यह पुरस्कार जीत चुके हैं ।

वह भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच हाल ही में संपन्न श्रृंखला में भी अंपायर थे ।

भाषा मोना आनन्द

आनन्द

यह खबर ‘भाषा’ न्यूज़ एजेंसी से ‘ऑटो-फीड’ द्वारा ली गई है. इसके कंटेट के लिए दिप्रिंट जिम्मेदार नहीं है.

share & View comments