scorecardresearch
Thursday, 13 June, 2024
होमचुनावकर्नाटक विधानसभा चुनाव‘पद के लिए ब्लैकमेल नहीं करूंगा, पार्टी मां की तरह’, कांग्रेस नेतृत्व से मिलने डीके शिवकुमार दिल्ली रवाना

‘पद के लिए ब्लैकमेल नहीं करूंगा, पार्टी मां की तरह’, कांग्रेस नेतृत्व से मिलने डीके शिवकुमार दिल्ली रवाना

बीते 13 मई को आए कर्नाटक विधानसभा चुनाव के परिणाम में कांग्रेस ने 224 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा में 135 सीटों पर जीत दर्ज की थी. चुनाव जीतने के बाद से ही कर्नाटक में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सस्पेंस जारी है.

Text Size:

नई दिल्ली: दक्षिणी राज्य कर्नाटक में मुख्यमंत्री पद की दौड़ में चल रहे कांग्रेस कर्नाटक के अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने मंगलवार को स्पष्ट कर दिया कि वह पार्टी के फैसले का सम्मान करेंगे और किसी भी प्रकार का ब्लैकमेल करने का सहारा नहीं लेंगे.

डीके शिवकुमार ने कहा, ‘यदि पार्टी चाहती है तो मुझे जिम्मेदारी दे सकती है. हमारा संयुक्त सदन है और हमारे पास 135 विधायक हैं. मैं यहां किसी को विभाजित नहीं करना चाहता हूं. वे मुझे पसंद करते हैं या नहीं, ये अलग बात है, लेकिन मैं एक जिम्मेदार आदमी हूं. मैं बैकस्टैब नहीं करूंगा और मैं ब्लैकमेल नहीं करूंगा.’

224 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा के लिए हाल ही में हुए चुनाव में कांग्रेस ने 135 सीटें जीतीं.

कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री के लिए कांग्रेस पार्टी में चल रही बातचीत के बीच शिवकुमार आज दिल्ली रवाना हुए. 

मुख्यमंत्री के पद पर कौन बैठेगा, इसकी घोषणा से पहले कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष पार्टी के आलाकमान से मिलेंगे.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

बेंगलुरु से रवाना होने से पहले उन्होंने कहा, ‘मेरे लिए पार्टी भगवान है. हमने इस पार्टी का निर्माण किया है, मैं इसका हिस्सा हूं और इसमें मैं अकेला नहीं हूं.’

उन्होंने कहा, ‘हमने यह पार्टी (कांग्रेस) बनाई है, हमने यह घर बनाया है. मैं इसका हिस्सा हूं. एक मां अपने बच्चे को सब कुछ देगी.’

राज्य पार्टी अध्यक्ष के रूप में उनकी उम्मीदों के बारे में पूछे जाने पर, शिवकुमार ने कहा, ‘मैं इस पर टिप्पणी नहीं करना चाहता कि पहले क्या हुआ. यह कैसे हुआ. यह एक बंद हो चुका अध्याय है. हमने सरकार बनाई, हमने सरकार खो दी. हमारा गठबंधन खत्म हो गया. जीत और हार के लिए जिम्मेदार कौन है अब इस पर बात करने का कोई फायदा नहीं है.’ 

मुख्यमंत्री पद के अन्य दावेदार कांग्रेस नेता सिद्धारमैया सोमवार को ही राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे थे.

शिवकुमार, जिन्होंने कल अपना जन्मदिन मनाया था, पेट में संक्रमण का हवाला देते हुए दिल्ली कल नहीं आए थे. उन्हें और सिद्धारमैया दोनों को एआईसीसी के शीर्ष नेतृत्व ने चर्चा के लिए दिल्ली बुलाया था. 

कर्नाटक के लिए पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षकों ने कल कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को नवनिर्वाचित विधायकों के विचारों से अवगत कराया था. पार्टी सूत्रों के मुताबिक, अंतिम फैसला सुनाने से पहले खड़गे सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से सलाह-मशविरा करेंगे. 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था, ‘कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा अगले 24 घंटों में की जाएगी.’

कांग्रेस विधायक दल ने रविवार की देर शाम बेंगलुरु में बैठक की थी और विधायक दल का प्रमुख चुनने के लिए कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे को जिम्मेदारी सौंपी थी.

शिवकुमार ने सोमवार को कहा कि सभी विधायक एक साथ हैं और पार्टी आलाकमान मुख्यमंत्री का नाम तय करेगी. 

शिवकुमार ने कहा, ‘पार्टी आलाकमान फोन करेगा. मैं कुछ और टिप्पणी या बोलना नहीं चाहता. मुझे जो कुछ भी बोलना था, मैं पहले ही बोल चुका हूं. मुझे विधायक (समर्थन) नहीं चाहिए. यह मेरे लिए महत्वपूर्ण नहीं है. हम सब मिलकर काम करेंगे. 135 विधायकों के अलावा हमें एक और विधायक का समर्थन प्राप्त है.’

इस बीच, कांग्रेस के दिग्गज नेता सिद्धारमैया ने सोमवार देर रात दिल्ली के लोधी होटल में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की थी.


यह भी पढ़ें: कर्नाटक के CM को लेकर सस्पेंस जारी: दिल्ली में AICC नेतृत्व से मुलाकात के बाद सिद्धारमैया ने साधी चुप्पी


 

share & View comments