Monday, 8 August, 2022
होमराजनीतिउद्धव ठाकरे ने छीने बागी विधायकों से मंत्रालय, एकनाथ का PWD सुभाष देसाई को, आदित्य को भी मिला प्रभार

उद्धव ठाकरे ने छीने बागी विधायकों से मंत्रालय, एकनाथ का PWD सुभाष देसाई को, आदित्य को भी मिला प्रभार

आधिकारिक बयान के अनुसार, बागी मंत्रियों के विभाग अन्य मंत्रियों को इसलिए दिए जा रहे हैं ताकि प्रशासन चलाने में आसानी हो .

Text Size:

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गुवाहाटी के होटल में ठहरे हुए नौ बागी मंत्रियों के विभाग अन्य मंत्रियों को आवंटित कर दिए हैं.

आधिकारिक बयान के अनुसार, बागी मंत्रियों के विभाग अन्य मंत्रियों को इसलिए दिए जा रहे हैं ताकि प्रशासन चलाने में आसानी हो .

महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार में शिवसेना के नौ मंत्री अब एकनाथ शिंदे की अगुवाई वाले बागी गुट में शामिल हो चुके हैं. शिवसेना में अब चार कैबिनेट मंत्री हैं जिनमें मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आदित्य ठाकरे, अनिल परब और सुभाष देसाई शामिल हैं.

आदित्य को छोड़कर शेष तीन विधान परिषद के सदस्य (एमएलसी) हैं. शिवसेना के अगुवाई वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में बगावत से पहले, पार्टी के 10 कैबिनेट मंत्री और चार राज्य मंत्री थे.

सीएमओ ने  अपने जारी बयान में कहा है कि, ‘महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंत्रियों के विभागों में फेरबदल किया ताकि जनहित के मुद्दों की उपेक्षा या अनदेखी न हो.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

बयान में कहा गया है, ‘एकनाथ शिंदे के शहरी विकास, लोक निर्माण विभाग (सार्वजनिक उपक्रम) सुभाष देसाई को फिर से सौंपा गया. गुलाबराव पाटिल का जलापूर्ति एवं स्वच्छता विभाग अनिल परब को दिया गया. संदीपनराव भुमरे को दादाजी भूसे का कृषि विभाग दिया गया.’

उदय सामंत का उच्च और तकनीकी शिक्षा विभाग, आदित्य ठाकरे को फिर से सौंपा गया.

सभी चार राज्य मंत्री असम के गुवाहाटी के होटल में डेरा डाले हुए हैं.


यह भी पढ़ें: राउत ने बागी विधायकों के खिलाफ ‘लाश’ वाली टिप्पणी का बचाव किया, कहा- किसी को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते


share & View comments