Monday, 23 May, 2022
होमराजनीतिउद्धव ठाकरे ने कहा, मैं अब भी मानता हूं कि शिवसेना ने BJP के साथ रहकर 25 साल बर्बाद कर दिये

उद्धव ठाकरे ने कहा, मैं अब भी मानता हूं कि शिवसेना ने BJP के साथ रहकर 25 साल बर्बाद कर दिये

एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा कि ये सच्चाई है कि देश में बीजेपी जिन दलों के साथ जाती है तो वे धीरे-धीरे सारे दल को हड़पकर उन्हें खत्म कर देती है.

Text Size:

मुम्बई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एवं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को भाजपा पर राजनीतिक सुविधा के अनुसार हिंदुत्व का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी पार्टी राज्य के बाहर अपना प्रसार करने का प्रयास करेगी और उसका लक्ष्य राष्ट्रीय भूमिका हासिल करने का है.

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सिकुड़ गया है क्योंकि अकाली दल एवं शिवसेना जैसे पुराने सहयोगी पहले ही उससे बाहर निकल गये.

पार्टी के संस्थापक और अपने पिता बाल ठाकरे की 96 वीं जयंती पर शिवसैनिकों को डिजिटल माध्यम से संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने सत्ता के माध्यम से हिंदुत्व के एजेंडे को आगे लेने के जाने के लिए भाजपा से हाथ मिलाया था.

उन्होंने कहा, ‘ शिवसेना ने भाजपा के साथ गठजोड़ किया था क्योंकि वह हिंदुत्व के लिए सत्ता चाहती थी. शिवसेना ने सत्ता की खातिर कभी हिंदुत्व का इस्तेमाल नहीं किया.’

उन्होंने कहा , ‘ शिवसेना ने हिंदुत्व को नहीं बल्कि भाजपा को छोड़ दिया . मैं मानता हूं कि भाजपा का अवसरवादी हिंदुत्व बस सत्ता के लिए है. ’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने भाजपा के साथ गठबंधन में जो 25 साल निकाले वह ‘बर्बाद’ चले गये.

शिवसेना 2019 के महाराष्ट्र चुनाव के बाद भाजपा से अलग हो चुकी है और उसने राकांपा एवं कांग्रेस के साथ मिलकर महा विकास अघाड़ी सरकार बना ली थी.

उद्धव ठाकर ने कांग्रेस और राकांपा के साथ हाथ मिलाने को सही ठहराते हुए कहा, ‘ हमने भाजपा को उसकी राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा पूरी करने के लिए दिल खोलकर साथ दिया. हमारे बीच समझ यह थी कि वह राष्ट्रीय स्तर पर जाएगी और हम महाराष्ट्र में आगे रहेंगे. लेकिन हमारे साथ धोखा किया गया और हमें हमारे ही घर में मिटाने की कोशिश की गयी. इसलिए हमने पलटवार किया. ’

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा अपनी सुविधा के हिसाब से अपने सहयोगियों का इस्तेमाल करती है और फिर उन्हें किनारे लगा देती है.

उन्होंने कहा, ‘ भाजपा का मतलब हिंदुत्व नहीं है. मैं अपने इस बयान पर कायम हूं कि शिवसेना ने भाजपा के साथ गठबंधन में 25 साल बर्बाद कर दिये. ’

उद्धव ठाकरे के इस बयान के बाद भारतीय जनता पार्टी के नेता राम कदम ने शिवसेना पर पलटवार करते हुए कहा, हिंदुत्व पर व्याख्यान देने से पहले, उद्धव ठाकरे को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए कि क्या शिवसेना दिवंगत बाल ठाकरे की विचारधारा का पालन कर रही है, जिन्होंने कहा था कि राजनीति और जीवन में उनकी पार्टी कभी कांग्रेस में शामिल नहीं होगी, और अगर ऐसी परिस्थितियां आती हैं, तो वह कार्यालय को पसंद करेंगे.’

इसी के जवाब में एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने एक बार फिर मोर्चा संभालते हुए कहा कि, ‘ये सच्चाई है कि देश में बीजेपी जिन दलों के साथ जाती है तो वे धीरे-धीरे सारे दल को हड़पकर उन्हें खत्म कर देती है.’


यह भी पढ़ें: मायावती ने कांग्रेस को बताया ‘वोट काटने वाली पार्टी’, बिना नाम लिए प्रियंका गांधी पर साधा निशाना


 

share & View comments