scorecardresearch
Sunday, 23 June, 2024
होमराजनीतिराहुल गांधी की 'भारत जोड़ो यात्रा' में 'सचिन पायलट जिंदाबाद' के लगे नारे

राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में ‘सचिन पायलट जिंदाबाद’ के लगे नारे

इस दौरान, बड़ी संख्या में युवाओं ने यात्रा में हिस्सा लिया और पायलट के समर्थन में नारे लगाए. लोग बैनर और पार्टी के झंडे लिए मार्च में शामिल होते देखे गए.

Text Size:

नई दिल्लीः राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा इन दिनों राजस्थान में है. लेकिन, रविवार को दौसा के कलाखो से यात्रा गुजरने के दौरान प्रदेश के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थन में गुर्जर समुदाय के लोगों ने फिर से नारे लगाए.

बता दें कि दौसा पायलट का पूर्ववर्ती संसदीय क्षेत्र है. यह कांग्रेस नेता और सचिन के पिता राजेश पायलट का भी गढ़ रहा है. इस दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी राहुल के साथ नजर आए.

यात्रा दौसा के कालाखो से सुबह करीब आठ बजे शुरू हुई. इसका स्वागत करने के लिए लोग सुबह से ही कतारों में खड़े दिखे. बड़ी संख्या में युवाओं ने यात्रा में हिस्सा लिया.

युवाओं को इस दौरान ‘हमारा सीएम कैसा हो सचिन पायलट जैसा हो’ और ‘सचिन पायलट जिंदाबाद’ कहते सुना गया.

कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ रविवार सुबह करीब आठ बजे दौसा के कालाखो से शुरू हुई, पैदल मार्च सिकंदरा पुलिस स्टेशन पहुंचने के बाद कुछ देर विराम के लिए रुकेगा.

यात्रा दोपहर साढ़े तीन बजे टोलगेट से दोबारा बहाल की जाएगी और शाम तक यह दौसा के बांदीकुई पहुंचेगी.

बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को भी दौसा जिले में भारत जोड़ो यात्रा के 100वें दिन कांग्रेस नेता सचिन पायलट के समर्थकों ने उनके समर्थन में नारेबाजी की थी.

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी सोमवार को अलवर में एक रैली को संबोधित करेंगे.

बता दें कि राजस्थान एक मात्र कांग्रेस शासित राज्य है जहां अभी तक यात्रा पहुंची है. यात्रा 21 दिसंबर को हरियाणा में प्रवेश करने से पहले यहां 17 दिन में करीब 500 किलोमीटर का सफर तय करेगी.

गौरतलब है कि कन्याकुमारी में सात सितंबर को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ अब तक आठ राज्यों-तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान से गुजर चुकी है. शुक्रवार को यात्रा के 100 दिन पूरे हो गए थे. यात्रा के तहत 150 दिन में 3,570 किलोमीटर का सफर तय करने का लक्ष्य है.

कांग्रेस ने दावा किया है कि यह भारत के इतिहास में किसी भी भारतीय राजनेता द्वारा सबसे लंबा पैदल मार्च है.

‘भारत जोड़ो यात्रा’ 24 दिसंबर को दिल्ली में प्रवेश करेगी और लगभग आठ दिनों के विश्राम के बाद उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब से गुजरते हुए अंत में जम्मू-कश्मीर की ओर बढ़ेगी.

इस दौरान अलग-अलग राज्यों में राहुल के साथ यात्रा में अभिनेत्री पूजा भट्ट, रिया सेन, स्वरा भास्कर, रश्मि देसाई, आकांक्षा पुरी और अमोल पालेकर जैसी हस्तियों के साथ-साथ समाज के कई वर्गों के लोगों की भागीदारी देखी गई है.

शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) की सुप्रिया सुले, पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल एल रामदास, भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन सहित कई दिग्गज अलग-अलग मौकों पर इस पदयात्रा में शामिल हो चुके हैं.


यह भी पढ़ेंः तेलंगाना में PCC रेवंत रेड्डी के खिलाफ एकजुट हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता, पार्टी को बर्बाद करने का लगाया आरोप


 

share & View comments