Sunday, 26 June, 2022
होमराजनीतिराजस्थान के मंत्री चांदना के इस्तीफे पर बोले CM गहलोत- उनकी बात को गंभीरता से न लें, तनाव में दिया बयान

राजस्थान के मंत्री चांदना के इस्तीफे पर बोले CM गहलोत- उनकी बात को गंभीरता से न लें, तनाव में दिया बयान

चांदना का यह ट्वीट उस समय सामने आया है जब पिछले हफ्ते ही सत्तारूढ़ कांग्रेस के विधायक और युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश घोघरा ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री गहलोत को भेजा है.

Text Size:

नई दिल्ली: शुक्रवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि खेल मंत्री अशोक चांदना की ‘उन्हें मंत्री पद से मुक्त करने’ की टिप्पणी को गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए क्योंकि हो सकता है कि मंत्री ने किसी प्रकार के तनाव के चलते ऐसी बात कह दी हो.

गौतलब है कि चांदना ने गुरुवार की रात मुख्यमंत्री गहलोत को संबोधित करते हुए ट्वीट किया था ‘माननीय मुख्यमंत्री जी, मेरा आपसे व्यक्तिगत अनुरोध है कि मुझे इस जलालत भरे मंत्री पद से मुक्त कर मेरे सभी विभागों का चार्ज कुलदीप रांका जी को दे दिया जाए, क्योंकि वैसे भी वो ही सभी विभागों के मंत्री हैं.’

 

रांका मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इस बारे में पूछे जाने पर गहलोत ने राज्य में प्रस्तावित ग्रामीण ओलंपिक का जिक्र किया. उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘राज्य में ग्रामीण ओलंपिक होने हैं जिनमें 30 लाख से अधिक लोग भाग लेंगे. इतना बड़ा भार उन (चांदना) पर है. हो सकता है कि वह किसी प्रकार के तनाव में आ गए हों और टिप्पणी कर दी.’

गहलोत ने कहा, ‘उसको ज्यादा गंभीरता से नहीं लेना चाहिए. मेरी उनसे बातचीत नहीं हुई है. दबाव में काम करते लग रहे हैं, इतनी बड़ी जिम्मेवारी उन पर आ गई है, देख लेंगे.’

वहीं मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने चांदना के ट्वीट को लेकर सत्तारूढ़ कांग्रेस पर निशाना साधा.

राजस्थान भाजपा प्रमुख सतीश पूनिया ने ट्वीट कर तंज कस्ते हुए कहा कि, ‘जहाज़ डूब रहा है… 2023 के रुझान आने शुरू.’

चांदना का यह ट्वीट उस समय सामने आया है जब पिछले हफ्ते ही सत्तारूढ़ कांग्रेस के विधायक और युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश घोघरा ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री गहलोत को भेजा है. विधायक ने डूंगरपुर जिले में उनपर हंगामा करने का मुकदमा दर्ज होने के बाद यह कदम उठाया.

उल्लेखनीय है कि राज्य से राज्यसभा की चार सीटों के लिए अगले महीने चुनाव होने जा रहे हैं और इससे पहले कांग्रेस एकजुट दिखाने की कोशिश कर रही है.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने गुरुवार दिन में भी ही कहा था कि ‘कांग्रेस एक है और एकजुट है राज्यसभा की चार में से तीन सीटें जीतेगी.’


यह भी पढ़े: सिब्बल का कांग्रेस छोड़ना ‘गांधी परिवार के नेतृत्व पर सवाल उठाने वाले’ पार्टी के जी-23 समूह के लिए एक झटका है


share & View comments