scorecardresearch
Wednesday, 24 July, 2024
होमराजनीति'मणिपुर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा', राहुल पर भड़कीं स्मृति ईरानी, बोलीं- कांग्रेस के मन में गद्दारी है

‘मणिपुर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा’, राहुल पर भड़कीं स्मृति ईरानी, बोलीं- कांग्रेस के मन में गद्दारी है

ईरानी ने कहा कि भारत मां की...की बात करने वाले कभी भी मेज नहीं थपथपाते. कांग्रेसियों ने बैठ कर मां की... के लिए मेज थपथपाई है.

Text Size:

नई दिल्ली: राहुल गांधी की संसद में दिए गए भाषण का जवाब देते हुए और कांग्रेस पर निशान साधते हुए स्मृति ईरानी ने बुधवार को कहा कि मणिपुर खंडित नहीं है, मणिपुर विभाजित नहीं है, मणिपुर भारत का अभिन्न अंग था, है और रहेगा.

उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस देश का विभाजन चाहती है मेज पर बैठ कर ताली बजाने वाली कांग्रेस के मन में गद्दारी है.

ईरानी ने कहा, “भारत मां की… की बात करने वाले कभी भी मेज नहीं थपथपाते. कांग्रेसियों ने बैठ कर मां की… के लिए मेज थपथपाई है.”

केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद स्मृति ईरानी ने कहा, “आप INDIA नहीं हैं, क्योंकि INDIA भ्रष्ट नहीं है. भारत वंशवाद में नहीं योग्यता में विश्वास करता है और आज आप जैसे लोगों को यह याद रखने की ज़रूरत है कि अंग्रेजों से क्या कहा गया था – भारत छोड़ो, भ्रष्टाचार भारत छोड़ो, वंशवाद भारत छोड़ो.”

स्मृति ईरानी मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर राहुल गांधी के भाषण के बाद उनका जवाब दे रही थीं और सरकार का पक्ष रख रही थीं.

अमेठी से भाजपा सांसद ने राहुल पर निशाना साधते हुए आगे कहा, “आज सदन में कहा गया कि उन्होंने (राहुल गांधी) यात्रा की और आश्वासन दिया कि अगर उनका बस चले तो वे अनुच्छेद 370 को फिर से बहाल करेंगे…जो व्यक्ति सदन से भाग गया है, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि देश में धारा 370 बहाल नहीं होगी और न ही कश्मीरी पंडितों को “रालिब गालिब चालीब” से धमकाने वालों को बख्शा जाएगा.”

केंद्रीय मंत्री ईरानी ने कहा कि संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बार-बार कहा कि सरकार मणिपुर मुद्दे पर बहस के लिए तैयार हैं लेकिन विपक्ष इससे भाग रहा है.


यह भी पढ़ें: 267 या 176 – INDIA नंबर गेम के जाल में फंस गया है और उसे अमित शाह की बात क्यों सुननी चाहिए


फ्लाइंग किस

राहुल गांधी पर सदन में फ्लाइंग किस देने का आरोप लगाते हुए ईरानी ने आपत्ति जताते हुए कहा, “मुझे किसी बात पर आपत्ति है. जिनको आज मुझसे पहले (राहुल गांधी) बोलने का अधिकार दिया गया उन्होंने जाते-जाते एक अभद्र लक्षण के दर्शन दिए. यह केवल एक स्त्रीद्वेषी व्यक्ति ही हो सकता है जो उस संसद में संसद की महिला सदस्यों के रहते हुए फ्लाइंग किस दे. ऐसे गरिमाविहीन आचरण को इस देश के सदन में कभी नहीं देखा गया.”

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए ईरानी ने कहा, देश में सभी समस्याओं की जड़ वंशवाद और परिवारवाद है.

ईरानी ने कहा, राहुल गांधी ने कहा कि पूरे देश में केरोसिन फैल गया है, हमें बस एक माचिस की जरूरत है. मैं आज पूछना चाहती हूं कि राहुल गांधी माचिस ढूंढने कहां गए थे? अमेरिका? वहां तंजीम अंसारी के साथ उनका कार्यक्रम था…भारत के खिलाफ आवाज उठाने वाले मिन्हाज खान से उन्होंने मुलाकात की.

अडाणी मुद्दे पर राहुल की बात का जवाब देते हुए ईरानी ने कहा, “ये कब से अडाणी अडाणी कर रहे हैं, तो अब थोड़ा मैं भी बोल लू. फोटो मेरे पास भी है…1993 में कांग्रेस ने मुंद्रा पोर्ट में अडाणी को जगह दी…यूपीए शासन के दौरान, उन्होंने अडाणी को 72,000 करोड़ का कर्ज दिया. कांग्रेस शासन के दौरान विभिन्न राज्यों में बंदरगाहों का काम अडाणी को क्यों दिया गया?”


यह भी पढ़ें: ‘मैं माफी मांगता हूं’,’ सदन में BJP पर बरसे राहुल गांधी, बोले- इन्होंने मणिपुर में भारत माता की हत्या की है


share & View comments