scorecardresearch
Wednesday, 17 July, 2024
होमराजनीति'मैं माफी मांगता हूं', सदन में BJP पर बरसे राहुल गांधी, बोले- पीएम मोदी देश की आवाज नहीं सुनते हैं

‘मैं माफी मांगता हूं’, सदन में BJP पर बरसे राहुल गांधी, बोले- पीएम मोदी देश की आवाज नहीं सुनते हैं

सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने बहस के दौरान कहा जैसा दर्द पीएम को हुआ उस दर्द का असर आप पर भी हुआ होगा. इसके लिए "मैं आपसे माफी मांगता हूं"

Text Size:

नई दिल्ली: “उन्होंने भारत को मणिपुर में… डाला. न केवल मणिपुर बल्कि उन्होंने भारत को… डाला. उनकी राजनीति ने मणिपुर को नहीं, बल्कि मणिपुर में भारत को… डाला है. उन्होंने मणिपुर में भारतमाता की… कर दी है.” ये शब्द हैं राहुल गांधी के हैं जो बुधवार को संसद में अपने भाषण में पीएम मोदी पर सीधा निशाना साध रहे थे.

राहुल ने कहा कि कुछ ही दिन पहले मैं मणिपुर गया. हमारे प्रधानमंत्री आज तक नहीं गए क्योंकि उनके लिए मणिपुर हिंदुस्तान नहीं है. मैंने मणिपुर शब्द प्रयोग किया, लेकिन आज की सच्चाई यह है कि मणिपुर ही नहीं बचा है. मणिपुर को आपने दो भाग में बांट दिया है, तोड़ दिया है. मैं मणिपुर में राहत शिविरों में गया. वहां महिलाओं से बात की, बच्चों से बात की, प्रधानमंत्री ने आज तक उनकी तरफ रुख भी नहीं किया है.

हालांकि इस दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी की तुलना रावण से की है. राहुल ने कहा कि, “जैसे लंका को हनुमान ने नहीं बल्कि रावण के अहंकार ने जलाया था वैसे ही देश किसी एक के अहंकार में जल रहा है. जैसे रावण दो लोगों की सुनता था मेघनाद और कुंभकर्ण की ठीक वैसे ही मोदी भी दो लोगों की सुनते हैं अमित शाह की और अडाणी की.”


यह भी पढ़ें: ‘बेटे को सेट, दामाद को भेंट, सोनिया जी का यही काम’- BJP नेता निशिकांत का कांग्रेस पर पलटवार


‘मैं माफी मांगता हूं’

राहुल गांधी ने बुधवार को लोकसभा में अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहा, “अध्यक्ष महोदय सबसे पहले मैं आपको मुझे लोकसभा के सांसद के रूप में बहाल करने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं. जब मैंने पिछली बार बात की थी तो शायद मैंने आपको परेशानी दी थी क्योंकि मैंने अडाणी पर ध्यान केंद्रित किया था, शायद आपके वरिष्ठ नेता को दुख हुआ…”

कांग्रेस नेता ने इस मौके पर लोकसभा अध्यक्ष पर भी कटाक्ष किया और उनसे कहा कि जैसा दर्द पीएम को हुआ उस दर्द का असर आप पर भी हुआ होगा. इसके लिए “मैं आपसे माफी मांगता हूं” लेकिन मैंने सच कहा. आज भाजपा के मेरे दोस्तों को डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि आज मेरा भाषण अडाणी पर केंद्रित नहीं है और आज मैं आप पर ज्यादा आक्रमण नहीं करूंगा इसलिए आप रिलैक्स कर सकते हैं.”

‘मेरा लक्ष्य मिल गया’

अपने लगभग आधे घंटे के भाषण में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, अपनी भारत जोड़ो यात्रा पर बोलते हुए कहा कि यात्रा के दौरान बाहर सारे लोगों ने मुझसे पूछा कि राहुल तुम क्यों चल रहे हो तुम्हारा लक्ष्य क्या हैं? जब वो मुझसे पूछते थे तो मेरे मुंह से जवाब नहीं निकलता था, लेकिन मुझे बाद में बात समझ में आने लगी कि जिस चीज़ से मुझे प्यार था जिस चीज़ के लिए मैं मरने को तैयार था, मोदीजी के जेलों में जाने को तैयार था जिस चीज़ के लिए मैंने 10 साल गली खाई मैं उस चीज़ को समझना चाहता था. जिस चीज़ ने मेरे दिल को इतने मजबूती से पकड़ रखा था में उस चीज़ को समझना चाहता था.

उन्होंने कहा, पहले दो दिन दिनों में हर रोज हर कदम में मेरे घुटनों में दर्द होता था मेरे पैरों में दर्द होता था लेकिन हमेशा कोई न कोई शक्ति मेरी मदद करती थी. लोग, किसान आते थे और मुझे बताते थे कि आपको ये करना चाहिए आपको ये करना चाहिए.

हालांकि राहुल के भाषण के साथ ही सदन में खूब हंगामा होता रहा. मणिपुर में हिंदुस्तान का… होने का जैसे ही आरोप लगाया लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ. कई सांसदों के बीच नोंक-झोंक भी देखने को मिली.

राहुल ने कहा भारत एक आवाज है. उस आवाज की हत्या आपने मणिपुर में की है. राहुल ने कहा, “पीएम मोदी देश की आवाज नहीं सुनते हैं.आपने मणिपुर में मेरी मां की हत्या की है, एक मां मेरी सदन में बैठी है और दूसरी मां की मणिपुर में… कर दी है. आप भारत माता के…हैं.”


यह भी पढ़ें: 267 या 176 – INDIA नंबर गेम के जाल में फंस गया है और उसे अमित शाह की बात क्यों सुननी चाहिए


 

share & View comments