scorecardresearch
Wednesday, 10 July, 2024
होमराजनीति'दो चीजों को मिलाने की जरूरत नहीं', NCP प्रमुख शरद पवार की अडाणी से मुलाकात पर बोले जयंत पाटिल

‘दो चीजों को मिलाने की जरूरत नहीं’, NCP प्रमुख शरद पवार की अडाणी से मुलाकात पर बोले जयंत पाटिल

पाटिल ने कहा कि राकांपा प्रमुख अडाणी को लंबे समय से जानते हैं और उन्होंने इस कार्यक्रम के लिए शरद पवार को आमंत्रित किया था.

Text Size:

नई दिल्ली: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार की अहमदाबाद में गौतम अडाणी से मुलाकात पर स्पष्टीकरण देते हुए एनसीपी विधायक जयंत पाटिल ने कहा कि दो अलग-अलग चीजों को मिलाने की जरूरत नहीं है.

पाटिल ने कहा, “इस पर आपत्ति की कोई आवश्यकता नहीं है, यह सिर्फ एक परियोजना थी जहां शरद पवार गए और इसका उद्घाटन किया. शरद पवार ने हमेशा INDIA गठबंधन की बैठकों में लिए गए फैसलों का समर्थन किया है और  इसलिए दो चीजों को मिलाने की कोई जरूरत नहीं है.”

पाटिल ने कहा कि इस पर कोई विवाद नहीं होना चाहिए क्योंकि गौतम अडाणी और इंडिया ब्लॉक का निमंत्रण रखना दो अलग चीजें हैं. उन्होंने यह भी कहा कि राकांपा प्रमुख अडाणी को लंबे समय से जानते हैं और उन्होंने इस कार्यक्रम के लिए शरद पवार को आमंत्रित किया है.

जयंत पाटिल ने कहा, “INDIA गठबंधन की सभी चर्चाएं सभी नेताओं द्वारा की जाती हैं जहां शरद पवार भी मौजूद हैं… और जहां तक उद्घाटन का सवाल है, शरद पवार उन्हें (गौतम अडाणी) जानते हैं, और उन्होंने उन्हें आमंत्रित किया था. यह उद्घाटन एक नया निवेश था.”

शरद पवार और अडाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडाणी ने शनिवार को अहमदाबाद के वासना में लैक्टोफेरिन प्लांट का उद्घाटन किया.

एक्स पर शरद पवार ने कहा, “गौतम अडाणी के साथ वासना, चाचरवाड़ी, गुजरात में भारत के पहले लैक्टोफेरिन प्लांट एक्सिमपॉवर का उद्घाटन करना सौभाग्य की बात थी.”

इससे पहले अप्रैल में गौतम अडाणी ने एनसीपी प्रमुख पवार से मुंबई में उनके आवास सिल्वर ओक में मुलाकात की थी. अप्रैल में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा था कि आज सरकार की आलोचना करने के लिए व्यापारियों और उद्योगपतियों का नाम लिया जाता है.

उन्होंने कहा, “आजकल (सरकार की आलोचना करने के लिए) अंबानी-अडाणी का नाम लिया जा रहा है, लेकिन हमें देश में उनके योगदान के बारे में सोचने की जरूरत है. मुझे लगता है कि बेरोजगारी, मूल्य वृद्धि और किसानों के मुद्दे जैसे अन्य मुद्दे अधिक महत्वपूर्ण हैं.”


यह भी पढ़ें: ओवैसी ने राहुल गांधी को हैदराबाद से चुनाव लड़ने की दी चुनौती, बोले- मैदान में आओ और मेरे खिलाफ लड़ो


 

share & View comments