scorecardresearch
Thursday, 13 June, 2024
होमराजनीतिमणिपुर हिंसा पर बोलीं BJP सांसद हेमा मालिनी — 'एक अकेले मोदी जी और I.N.D.I.A पड़ा है पीछे'

मणिपुर हिंसा पर बोलीं BJP सांसद हेमा मालिनी — ‘एक अकेले मोदी जी और I.N.D.I.A पड़ा है पीछे’

हेमा ने कहा कि पिछले दस सालों में महिलाओं को लेकर और उन्हें सशक्त बनाने से लेकर भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री मोदी ने कई काम किए हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: महिलाओं के प्रति देश में बढ़ती हिंसा पर भारतीय जनता पार्टी की नेता और उत्तर प्रदेश मथुरा से सांसद हेमा मालिनी ने कहा है कि विपक्षी पार्टियों ने एक गुट INDIA बनाया है और मोदी जी के पीछे पड़ गए हैं. वो सिर्फ मणिपुर मणिपुर कर रहे हैं क्या सिर्फ महिलाओं के साथ मणिपुर में इस तरह की विभत्स घटनाएं हो रही हैं. उन्होंने कहा, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और राजस्थान सभी जगह तो महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार की घटनाएं हो रही हैं और वहां के लिए सभी ने चुप्पी साध रखी है.

हेमा ने कहा कि पिछले दस सालों में महिलाओं को सशक्त बनाने से लेकर भाजपा सरकार और प्रधानमंत्री मोदी ने कई काम किए हैं. भाजपा से सांसद अभिनेत्री हेमा मालिनी ने दिप्रिंट से खास बातचीत में कहा कि हम सभी सांसदों को मोदी जी ने कहा है कि हम लोगों के बीच जाएं. महिलाओं की परेशानियां जानें, बेटियों को क्या-क्या परेशानियां हैं और हम उसे कैसे दूर कर सकते हैं उस पर जोर दें.

हेमा ने आगे कहा जिस तरह से विपक्षी पार्टियां गुट बनाकर मोदी जी के पीछे पड़ गईं हैं क्या वो उनके शासन काल में मणिपुर के कैसे हालात थे वो भूल गए हैं. इस दौरान कुछ 20 साल पहले रेकी सिखाने के अनुभव को याद करते हुए हेमा ने बताया कि कैसे रेकी सिखाने वाले बताते थे कि वहां गोलियां चला करती थीं, कर्फ्यू लगा रहता था.

उन्होंने कह, “मणिपुर हमेशा से एक अशांत राज्य रहा है और जब कांग्रेस की सरकार थी तब वहां के कैसे हालत थे वो कांग्रेस और INDIA वाले भूल गए हैं.”

हेमा ने आगे कहा, “जिस तरह से मोदी जी ने दुनिया के सामने भारत को लाइम लाइट में लाया है कोई दूसरा नहीं कर सकता है. वो इस मुद्दे पर भी जवाब देंगे. वे महिलाओं को आत्मनिर्भर होने की बात करते हैं.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

हेमा मालिनी ने ये बातें अपने बड़े भाई कि किताब गैलोपिंग डिकेड्स के लोकार्पण के दौरान ये बातें कहीं. दिल्ली में आयोजित इस कार्यक्रम से पहले हेमा ने ज्ञानवापी मामले में सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले के बाद कहा कि कृष्ण जन्मभूमि का भी सर्वे कराया जाना चाहिए और जल्दी से जल्दी इसपर एक्शन लिया जाना चाहिए.

हालांकि, इस दौरान हेमा ने महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने की सलाह देते हुए कहा कि वो एक शक्ति हैं. उन्हें पता होना चाहिए कि उनमें कितनी पावर है और खुद को पावरफुल बनाने के लिए काम करना चाहिए.

उन्होंने आगे कहा कि महिलाओं को आज इतना मज़बूत तो होना होगा कि कोई भी आपके आसपास आने से पहले दस बार सोचे.


यह भी पढ़ें: ‘यह हमारे अच्छे, बुरे और खास पलों की किताब है’, हेमा मालिनी ने की अपने भाई की ऑटोबायोग्राफी लॉन्च


 

share & View comments