scorecardresearch
Tuesday, 27 February, 2024
होमराजनीतिमणिपुर के CM बीरेन सिंह ने इस्तीफे की बात टाली, कहा- मेरा काम राज्य में शांति बहाल करना है

मणिपुर के CM बीरेन सिंह ने इस्तीफे की बात टाली, कहा- मेरा काम राज्य में शांति बहाल करना है

सीएम ने कहा कि अभी तक, घटना से जुड़े मुख्य आरोपी समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है. सरकार दोषियों को मिसाल पेश करने वाली सजा दिलाएगी.

Text Size:

इम्फाल (मणिपुर) : मणिपुर के सीएम बीरेन सिंह के इस्तीफे की नए सिरे से मांग और एक वायरल हुए वीडियो, जिसमें कथित तौर पर दो महिलाओं को नंगा करके परेड कराया जा रहा है, को लेकर संसद में हंगामे के बीच शुक्रवार को अपने इस्तीफे को लेकर पूछे गए सवाल को टाल गए. उन्होंने कहा कि उनका काम राज्य में शांति बहाल करना और यह सुनिश्चित करना है कि कथित घटना के अपराधियों को सजा मिले.

मणिपुर के सीएम ने शुक्रवार को बताया कि अभी तक, घटना से जुड़े मुख्य आरोपी समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार दोषियों को मिसाल पेश करने वाली सजा दिलाएगी. चालू संसद के मानसून सत्र में दोनों सदनों में विपक्षी दल के सभी नेताओं ने मणिपुर की घटना पर आक्रोश जताया, और इस मुद्दे पर चर्चा की मांग को लेकर बार-बार सदन को बाधित किया.

घटना को लेकर विपक्ष के जोरदार विरोध प्रदर्शन पर, सिंह ने कहा कि मणिपुर में लोग सभी महिलाओं के साथ वैसा ही व्यवहार करते हैं जैसा वे अपनी मां और बहनों के साथ करते हैं और कभी भी अपराध को नजरअंदाज नहीं करते, उन्होंने आगे कहा कि इससे पता चलता है कि मणिपुर में राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन क्यों चल रहे थे.

सीएम ने कहा, “जैसे ही वीडियो सामने आया सभी ने गुस्सा जाहिर किया. हमारे समाज में, सभी महिलाओं को मां और बहन के रूप में देखा जाता है, यही कारण है कि पूरे प्रदेश में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है.”

इस बीच, शुक्रवार को एक और वीडियो सामने आया, जिसमें दिख रहा है कि महिलाएं इम्फाल में इन आरोपियों में से एक का घर जला रही हैं. यह वीडियो बृहस्पतिवार का बताया जा रहा है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

क्लिप में दिख रहा है कि एक उग्र भीड़ घर को आग लगाने से पहले उसे तहस-नहस कर रही है. इस वीडियो को लेकर सीएम ने कहा, “यह घर कल, घटना को लेकर मामले में गिरफ्तार हुए पहले शख्स का है, जिसे आग लगा दी गई. हमारा समाज किसी भी तरह के अपराध के खिलाफ प्रदर्शन करता है, खासतौर से महिलाओं के खिलाफ. वे महिलाओं को अपनी मां-बहन मानते हैं. इसीलिए हर विधानसभा क्षेत्र में प्रदर्शन किया जा रहा है, ताकि ऐसी घटना भविष्य में दोबारा न हो.”

इससे पहले, बृहस्पतिवार को सिंह ने कहा था कि यह वीडियो 40 दिन बाद सामने आया है, यह 4 मई का है. जब मणिपुर में जातीय हिंसा फैली थी. मैंने तलाशी अभियान का आदेश दिया (आरोपी को पकड़ने के लिए), और पिछली रात ही हमने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.”

मणिपुर के मुख्यमंत्री ने बृहस्पतिवार को सरकार द्वारा सभी अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने और यहां तक उन्हें मुत्युदंड की सजा देने की बात करते हुए कहा, “वास्तव में जब मैंने वीडियो देखा तो दंग रह गया. मैंने घटना के बारे में जांच कराई और पता चला कि यह घटना 4 मई को हुई थी. यह वीडियो 40 दिन बाद लीक हुआ है.”


यह भी पढे़ं: गरीबों की पहुंच से बाहर हो रही महंगी होती शिक्षा, संस्थानों की फीस तोड़ रही है आम लोगों के सपने


 

share & View comments