scorecardresearch
Friday, 1 March, 2024
होमराजनीतिBSP ने दानिश अली को 'पार्टी विरोधी' गतिविधियों पर किया सस्पेंड, कहा- नहीं मान रहे अनुशासन

BSP ने दानिश अली को ‘पार्टी विरोधी’ गतिविधियों पर किया सस्पेंड, कहा- नहीं मान रहे अनुशासन

अमरोहा से बसपा के सांसद अली के खिलाफ भाजपा नेता रमेश बिधूड़ी ने संसद में अपमानजनक टिप्पणी की थी, जिसको लेकर हंगामा खड़ा हुआ था.

Text Size:

नई दिल्ली : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में सांसद दानिश अली को शनिवार को निलंबित कर दिया.

इससे पहले दिन में पार्टी ने सांसद दानिश अली को एक पत्र लिखा था.

पत्र में कहा गया है, “आपको कई बार कहा गया है कि ऐसी टिप्पणी या कार्य न करें जो पार्टी की नीतियों, विचारधाराओं और अनुशासन के खिलाफ हो. इसके बावजूद, आप पार्टी के खिलाफ काम कर रहे हैं.”

इसमें कहा गया है, “आपको यह याद दिलाना महत्वपूर्ण है कि 2018 तक, आप देवेगौड़ाजी की जनता पार्टी के सदस्य के रूप में काम कर रहे थे और कर्नाटक विधानसभा चुनावों में सक्रिय रूप से भाग लिया था, जो बसपा और जनता पार्टी ने गठबंधन में मिलकर लड़ा था. नतीजों के बाद कर्नाटक विधानसभा चुनाव में देवेगौड़ाजी के अनुरोध पर आपको अमरोहा विधानसभा क्षेत्र से बसपा उम्मीदवार के रूप में टिकट दिया गया था. इससे पहले, देवेगौड़ाजी ने आश्वासन दिया था कि आप पार्टी द्वारा दी गई सभी नीतियों और निर्देशों का पालन करेंगे और सामंजस्य बिठाकर कार्य करेंगे. पार्टी के हितों के साथ आप बार-बार एक चीज दोहरा रहे हैं.”

इसमें कहा गया है, “हालांकि, आश्वासन को भूलकर, आप पार्टी विरोधी गतिविधियों में फंस गए हैं. इसलिए, आपको पार्टी के हित में, तत्काल प्रभाव से पार्टी की सदस्यता से निलंबित किया जाता है.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

अली उत्तर प्रदेश के अमरोहा से लोकसभा सांसद हैं.

इससे पहले, लोकसभा में दानिश अली के खिलाफ भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी की अपमानजनक टिप्पणी से बड़ा राजनीतिक हंगामा खड़ा हो गया था और बसपा सदस्य ने बिधूड़ी के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर संसद छोड़ने की धमकी दी थी.

पूरे विपक्ष ने भी अली को अपना समर्थन दिया था कुछ ने तो टिप्पणियों को “हेट स्पीच” कहा.

कई विपक्षी सांसदों ने बिधूड़ी के बयान की निंदा करते हुए इसे ‘शर्मनाक’ और ‘अपमानजनक’ बताया. बसपा प्रमुख मायावती भी अपनी पार्टी के सांसद के समर्थन में उतर आई थीं.

कुछ बीजेपी सदस्यों ने दानिश अली पर भाषण के दौरान रनिंग कमेंट्री करने का भी आरोप लगाया था. भाजपा सांसद निशिकांत दूबे ने बसपा सांसद पर बिधूड़ी को उकसाने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ “अपमानजनक टिप्पणी” करने का आरोप लगाया था.

इस बीच, भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी और बसपा के दानिश अली ने गुरुवार को लोकसभा की विशेषाधिकार समिति के समक्ष अपनी दलीलें पेश कीं, जो संसद के विशेष सत्र में चर्चा के दौरान “अपमानजनक” और अनुचित टिप्पणियों की शिकायतों पर गौर कर रही है.


यह भी पढ़ें : ‘कांग्रेस-AIMIM की मिलीभगत सामने आई’, BJP ने अकबरुद्दीन ओवैसी को प्रोटेम स्पीकर बनाने का किया विरोध


 

share & View comments