Thursday, 30 June, 2022
होमराजनीति'थैंक्यू मोदी जी' राहुल का पीएम पर निशाना, बोले- 2014 से पहले ‘लिंचिंग’ शब्द सुनने में भी नहीं आता था

‘थैंक्यू मोदी जी’ राहुल का पीएम पर निशाना, बोले- 2014 से पहले ‘लिंचिंग’ शब्द सुनने में भी नहीं आता था

राहुल गांधी ने ‘थैंक्यू मोदी जी’ हैशटैग के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘2014 से पहले ‘लिंचिंग’ शब्द सुनने में भी नहीं आता था.’

Text Size:

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पंजाब और कुछ अन्य जगहों पर भीड़ द्वारा पीट-पीटकर कथित तौर पर मार डालने (लिंचिंग) की हालिया घटनाओं की पृष्ठभूमि में मंगलवार को आरोप लगाया कि साल 2014 में नरेंद्र मोदी सरकार बनने से पहले ‘लिंचिंग’ शब्द सुनने में नहीं आता था.

उन्होंने ‘थैंक्यू मोदी जी’ हैशटैग के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘2014 से पहले ‘लिंचिंग’ शब्द सुनने में भी नहीं आता था.’

राहुल के ट्वीट को री-ट्वीट करते हुए भाजपा के अमित मालवीय ने एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ‘मिलिए राजीव गांधी से, मॉब लिंचिंग के जनक, सिखों के खून से लथपथ जनसंहार को सही ठहराते हुए.  कांग्रेस सड़कों पर उतरी, खून का बदला खून से लेंगे जैसे नारे लगाए, महिलाओं के साथ बलात्कार किया, सिख पुरुषों के गले में जलते टायर लपेटे, जबकि कुत्तों को नालों में फेंके गए जले हुए शवों पर ले जाया गया.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

गौरतलब है कि गत रविवार को पंजाब के कपूरथला के निजामपुर गांव में एक गुरुद्वारा में सिख धर्म के ‘निशान साहिब’ (ध्वज) का अनादर करने के आरोप में एक अज्ञात व्यक्ति को भीड़ ने पीट-पीटकर कथित तौर पर मार डाला.

इससे पहले अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में शनिवार को कथित बेअदबी को लेकर भीड़ ने एक अन्य व्यक्ति की पीट-पीट कर कथित तौर पर जान ले ली थी.


यह भी पढ़ें: अजय कुमार मिश्रा को बर्खास्त करने पर अड़े राहुल, बोले- ये कैसी सरकार जिसे संसद संभालना नहीं आता


 

share & View comments