scorecardresearch
Thursday, 13 June, 2024
होमराजनीतिकेजरीवाल ने गोवा के पूर्व CM मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल को दिया न्यौता, कहा- AAP में आना चाहें तो स्वागत है

केजरीवाल ने गोवा के पूर्व CM मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल को दिया न्यौता, कहा- AAP में आना चाहें तो स्वागत है

केजरीवाल ने एक सवाल के जवाब में संवाददाताओं से कहा, ‘मैं मनोहर पर्रिकर का सम्मान करता हूं. अगर उनके पुत्र आम आदमी पार्टी में शामिल होने के इच्छुक हों तो उनका स्वागत है.’

Text Size:

पणजी: आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि यदि गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर उनकी पार्टी में शामिल होना चाहें तो उनका स्वागत है.

उत्पल पर्रिकर पणजी विधानसभा क्षेत्र से भाजपा का टिकट लेने के लिए प्रयास कर रहे हैं. हालांकि, सत्तारूढ़ दल ने इसे कोई खास तवज्जो नहीं दी है. इस सीट का प्रतिनिधित्व उनके पिता ने दो दशक से अधिक समय तक किया था.

गोवा में विधानसभा चुनाव 14 फरवरी को होगा. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के अलावा आप तथा ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस भी चुनाव मैदान में है. इन दलों के अलावा अन्य राजनीतिक दल भी चुनावी अखाड़े में हैं.

केजरीवाल ने एक सवाल के जवाब में संवाददाताओं से कहा, ‘मैं मनोहर पर्रिकर का सम्मान करता हूं. अगर उनके पुत्र आम आदमी पार्टी में शामिल होने के इच्छुक हों तो उनका स्वागत है.’

पणजी विधानसभा सीट पर अभी भाजपा का कब्जा है और अतानासियो मोनसेराते इस सीट से विधायक हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

हाल ही में भाजपा के गोवा चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस ने उत्पल पर्रिकर पर निशाना साधते हुए कहा था कि कोई भी व्यक्ति सिर्फ इस वजह से भाजपा का टिकट पाने के योग्य नहीं हो जाता कि वह मनोहर पर्रिकर या किसी अन्य नेता का बेटा है.

केजरीवाल शुक्रवार से ही गोवा में हैं. गोवा दौरे के दौरान केजरीवाल ने अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों में घर-घर प्रचार अभियान में हिस्सा लिया.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो उनकी पार्टी गैर भाजपा दलों के साथ चुनाव बाद गठबंधन करेगी.

share & View comments