scorecardresearch
Monday, 15 July, 2024
होमराजनीतिलोकसभा में ओवैसी बोले, 'मुझे गोली लगती है वो कबूल है, लेकिन मैं घुटन की जिंदगी नहीं जीना चाहता'

लोकसभा में ओवैसी बोले, ‘मुझे गोली लगती है वो कबूल है, लेकिन मैं घुटन की जिंदगी नहीं जीना चाहता’

असदुद्दीन ओवैसी ने सदन में कहा कि मैंने 6 फीट नजदीक से गोलियां देखी हैं. हमला करने वाले दो आरोपियों को यूपी पुलिस ने शुक्रवार कोर्ट में पेश किया दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

Text Size:

नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी शुक्रवार को लोकसभा में उत्तर प्रदेश के हापुड़ टोल प्लाजा पर हुए हमले को लेकर काफी आहत थे. उन्होंने कहा कि मुझ पर चार राउंड गोलियां चलाई गईं.

यूपी में अपने वाहन पर हमले को लेकर एआईएमआईएम सांसद ने यह भी कहा कि ‘कट्टरपंथ ने महात्मा गांधी, हमारे दो पूर्व प्रधानमंत्रियों और कई अन्य नेताओं को मार डाला है.’

‘इस बाबत मैंने 2015 में संसद में सभी धर्मों के लिए एक डी-रेडिकलाइज़ेशन समूह स्थापित करने के लिए कहा था.लेकिन मेरी बातों को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘उनके (निशानेबाजों)  पीछे कई लोग हैं. प्रयागराज में हाल ही में एक तथाकथित ‘धर्म संसद’ आयोजित की गई, जहां लोगों ने खड़े होकर मुझे मारने की बात कही. सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है?’

ओवैसी ने कहा कि ‘मैं मौत से डरने वाला नहीं हूं, मैं इस वतन में पैदा हुआ, मुझे जेड प्लस सुरक्षा बिल्कुल नहीं चाहिए.’

जब वो सदन में बोल रहे थे तो उन्हें चुप कराने की कोशिश की गई तब उन्होंने कहा, ‘कल मैंने 6 फीट नजदीक से गोलियां देखी हैं, अगर मैं संसद में अपनी बात नहीं रखूंगा तो कहां रखूंगा.’

ओवैसी ने कहा, ‘मैं मौत से डरने वाला नहीं हूं, मैं इस वतन में पैदा हुआ, मुझे सुरक्षा बिल्कुल नहीं चाहिए. मैं घुटन के साथ जिंदा नहीं रहना चाहता हूं.’

‘आजाद जिंदगी व्यतीत करना चाहता हूं. मुझे गोली लगती है, तो मुझे कबूल है. लेकिन मैं घुटन की जिंदगी नहीं जीना चाहता. गरीब बचेंगे, तो मैं बचा लूंगा ओवैसी की जान उस वक्त बचेगी, जब गरीब की जान बचेगी. मुझे ए कैटेगरी का शहरी बनाइए , जेड कैटेगरी की सुरक्षा नहीं चाहिए.’

 


यह भी पढ़ें: असदुद्दीन ओवैसी पर जानलेवा हमला, एक शख्स हिरासत में, AIMIM प्रमुख ने की EC से जांच कराने की मांग


‘भारत की दौलत है मोहब्बत’

ओवैसी आगे बोले, ‘मैं सरकार से कहना चाहता हूं कि इस तरह की घटना से आपको नुकसान होगा. मैं लोकसभा अध्यक्ष के जरिए सरकार को बताना चाहूंगा कि जिन लोगों ने ये रैडिकलाइजेशन किया है. उन पर आतंक-रोधी यूएपीए क्यों नहीं लगाते हैं. अगर किसी क्रिकेट मैच पर कोई पाकिस्तान की तारीफ करता है तो उस पर यूएपीए लगता है। लेकिन सांसद पर गोली चलाने वाले पर यूएपीए नहीं लगता.’

ओवैसी बोले, ‘भारत की दौलत मोहब्बत है. हम वो भारत हैं जो मोहब्बत पर आबाद है. क्या आप दौलत के भारत की मिसाल देंगे या मोहब्बत के भारत की मिसाल देंगे. अगर मोहब्बत के भारत की मिसाल देंगे तो जुबान देता हूं कि मैं आपके साथ हूं.’

बता दें की ओवैसी गुरुवार को यूपी में चुनाव प्रचार के लिए गए थे. जब उनका काफिला हापुड़ टोल प्लाजा छिजारसी से दिल्ली की तरफ लौट रहा था तब उनपर हमला हुआ. हमला करने वाले दो आरोपियों को यूपी पुलिस ने गुरुवार को ही गिरफ्तार कर लिया था. दोनों आरोपियों को शुक्रवार कोर्ट में पेश किया गया, जहां दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.


यह भी पढ़ेंः PM मोदी ने सपा को कहा परिवारवादी, बोले- इन्हें मौका मिला तो ये किसानों को मिल रही मदद को बंद करा देंगे


share & View comments